हरदोई ही नहीं आसपास के कई जिलों में मशहूर है यहां की लस्सी

Mohit ShuklaMohit Shukla   24 May 2019 10:36 AM GMT

हरदोई (उत्तर प्रदेश)। अगर आप हरदोई जा रहे और सपले भाई की लस्सी का स्वाद लिए बगैर वापस आ गए तो हरदोई जाना बेकार है। सपले भाई की लस्सी का इस चिलचिलाती धूप में पीने का आनन्द ही कुछ अलग है। य

उत्तर प्रदेश के राजधानी से 120 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हरदोई के बड़े चौराहे पर सपले बाजपेई की लस्सी इतनी मशहूर है कि वहां पर लस्सी पीने के लिए लोग नवाबों के शहर लखनऊ से भी आते हैं। शाम होते ही सपले कि लस्सी की डिमांड इतनी बढ़ जाती है कि सपले लस्सी की सप्लाई दे नही पाते हैं।

सपले बताते हैं, "लस्सी के साथ-साथ कुल्हड़ वाली फालूदा कुल्फ़ी की भी बहुत तेज़ी से डिमांड है। शाम होते ही फालूदा के ग्राहकों की भीड़ लग जाती है। एक तो मिट्टी की प्याली में फालूदा के साथ साथ सोंधी-सोंधी खुशबू जुबान का स्वाद ही बदल के रख देती है।"

लॉटरी बन्द हों जाने बाद शुरू किया था लस्सी का काम

सपले बताते हैं, "साल1999 में जब लाटरी का धंधा बन्द हो गया उसके बाद से हमने लस्सी का कारोबार अपनाया। आज हमारी लस्सी इतनी मशहूर है कि हरदोई ही नहीं लखनऊ, आगरा, कन्नौज तक के लोग लस्सी का स्वाद लेने के लिए आते हैं।"

गौरव बताते हैं कि वो सपले की लस्सी के आज दस साल से सपरिवार पीने आते है। उन्होंने बताया कि इलाहाबाद में पढ़ रही उनकी बहन आराध्या मिश्रा जब भी हरदोई आती है तो उनकी लस्सी पिये बगैर नही वापस जाती है।

लखनऊ से कंस्ट्रक्शन कंपनी के ठेकेदार कमल पाल ने बताया कि वो पिछले 5 सालों से सपले की लस्सी पीते हैं, जब भी हरदोई आते है तो बिना पिये रहा न जाये वाली आदत बन गयी है।

ये भी पढ़ें : कहानी लखनऊ के 'लल्ला की ज़ायकेदार' बिरयानी की


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top