चीन की दक्षिणी और पूर्वी चीन सागर में ड्रोन तैनात करने की योजना

चीन की दक्षिणी और पूर्वी चीन सागर में ड्रोन तैनात करने की योजनादक्षिणी चीन सागर और जापान के साथ लगे विवादस्पद द्वीपों की ड्रोन से निगरानी और मैपिंग करने की तैयारी में चीन।

बीजिंग (भाषा)। चीन की योजना विवादित दक्षिणी चीन सागर और जापान के साथ लगे विवादस्पद द्वीपों की निगरानी और मैपिंग के लिए स्वदेश में तैयार ड्रोन तैनात करने की है। सरकारी समाचार पत्र ‘पीपुल्स डेली’ ने ‘‘चाइना टॉपआरएस टेक्नोलोजी को लि.’’ के महाप्रबंधक ली यिंगचेंग के हवाले से कहा कि दक्षिणी चीन सागर और सेंकाकु द्वीपसमूह की निगरानी और मैपिंग के लिए चीन स्वदेश में डिजायन किए गए ड्रोन को तैनात करने में सक्षम है। चीन और जापान दोनों पूर्वी चीन सागर में स्थित सेंकाकु द्वीपसमूह पर दावा करते रहे हैं।

उन्होंने कहा कि ड्रोन तटीय रेखा से 80 नॉटिकल मील तक के जल क्षेत्र पर पूरी तरह से नजर रख सकता है जबकि तट रेखा से 1500 नॉटिकल मील तक के क्षेत्र में आंशिक रुप से नजर रखी जा सकती है। चीन लगभग पूरे दक्षिणी चीन सागर पर अपना दावा करता है। चीन का कहना है कि उसके पास कुल 12,186 द्वीपसमूह हैं। इनमें से कई द्वीप मुख्य भूमि से एक हजार किलोमीटर तक की दूरी पर स्थित हैं।

Share it
Top