सुधार के बाद शुक्रवार को फिर से खोला जाएगा विश्व का सबसे ऊंचा कांच का पुल 

सुधार के बाद शुक्रवार को फिर से खोला जाएगा विश्व का सबसे ऊंचा कांच का पुल यह पुल जमीन से 300 मीटर की उंचाई पर दो पहाड़ों को जोड़ता है।

बीजिंग (भाषा)। दुनिया के सबसे उंचे और लंबे कांच के पुल को सुधार के बाद फिर से पर्यटकों के लिए शुक्रवार को खोला जाएगा। पर्यटकों की बड़ी संख्या को देखते हुए इसमें कुछ सुधार होने थे।

यह कांच का पुल चीन के झांगचियाचिए क्षेत्र के ग्रेंड केनेयन के ऊपर बना हुआ है। यह यूनेस्को विश्व विरासत में भी शामिल है। 20 अगस्त को उद्घाटन के बाद पर्यटकों की बड़ी संख्या को देखते हुए इस पुल को सितंबर की शुरआत में अस्थायी रुप से बंद कर दिया गया था। पुल प्रबंधन समिति ने कहा कि शुक्रवार को दोबारा पुल खुलने के बाद पर्यटक प्रवेश द्वार पर अपना पहचान पत्र स्वाइप करके दाखिल हो सकते हैं। पर्यटकों को आधिकारिक वेबसाइट से टिकट बुक कराना होगा।

सुरक्षा में सुधार के लिए पुल के इंटरनल सिस्टम को अद्यतन किया जाना जरुरी था। यहां पहले एक दिन में पर्यटकों के आने की संख्या 8,000 तय की गई थी, लेकिन हर दिन यहां करीब 10,000 पर्यटक आ रहे थे। अब प्रबंधन समिति ने पर्यटकों की संख्या प्रवाह को रोकने के लिए इंटिलिजेंट मॉनिटरिंग सिस्टम लगाया है। इसकी मदद से प्रवेश और निकास दरवाजे पर पर्यटकों की संख्या को नियंत्रित किया जा सकेगा।

यह पुल 430 मीटर लंबा और छह मीटर चौड़ा है। इसे बनाने में तीन परत के 99 पारदर्शी कांचों की प्लेटों का इस्तेमाल किया गया है। यह जमीन से 300 मीटर की उंचाई पर यह दो पहाडों को जोड़ता है।

इस पुल को देखने के पर्यटकों को 138 यूआन यानी 21 डॉलर खर्च करने होंगे। सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक पुल ने डिजाइन और निर्माण के मामले में 10 विश्व रिकॉर्ड बनाए हैं। पुल पर पर्यटक सिर्फ मोबाइल और पर्स लेकर ही जा सकते हैं। पर्यटकों को ऊंची एड़ी वाले जूते या चप्पल पहनने की मनाही है। इसके साथ ही पर्यटकों को बिना रेलिंग की सहायता से ही पुल पार करना होगा।

Share it
Top