जम्मू-कश्मीरः किश्तवाड़ में पत्थरबाजी की घटना के बाद दूसरे दिन भी कर्फ्यू जारी

जम्मू-कश्मीरः किश्तवाड़ में पत्थरबाजी की घटना के बाद दूसरे दिन भी कर्फ्यू जारीजम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ जिले में पत्थरबाजी की घटना के बाद लगाया गया कर्फ्यू सोमवार को दूसरे दिन भी जारी रहा

जम्मू (भाषा)। जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ जिले में पत्थरबाजी की घटना के बाद लगाया गया कर्फ्यू सोमवार को दूसरे दिन भी जारी रहा। तीन अलगाववादी नेताओं को गिरफ्तार करने के बाद पत्थरबाजी की घटना हुई थी। वहीं गिरफ्तारी के खिलाफ डोडा और भदरवाह के कई शहरों को आंशिक रुप से बंद रखा गया।

शनिवार की रात को शहर में तीन अलगाववादी नेताओं को गिरफ्तार किया गया और जिले में शांति भंग करने के लिए उनपर सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम (पीएसए) के तहत मामला दर्ज किया गया। उनके शांति भंग करने के बाद कुछ लोगों ने पत्थरबाजी की जिसकी वजह से प्रशासन को जिले में कर्फ्यू लगाना पडा।

किश्तवाड़ के उपायुक्त गुलाम नबी बलवान ने कहा, ‘‘अशांति भड़काने के लिए शहर में एक और व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया। रविवार ऐहतियाती उपाय के तौर पर लगाया गया कर्फ्यू सोमवार दूसरे दिन भी लगा हुआ है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘स्थिति अब सामान्य और शांतिपूर्ण है। जिला प्रशासन एक समीक्षा बैठक करेगा और समुदाय के नेता अगर शांति की गारंटी देते हैं तो कर्फ्यू में ढील दी जाएगी।’’ सूत्रों ने कहा कि चार अगस्त के बाद से कथित नफरत भरे और भारत विरोधी भाषण देने के लिए हुर्रियत के तीन नेताओं पर पीएसए के तहत मामला दर्ज किया गया है। वे कथित तौर पर युवाओें को पत्थरबाजी और हिंसक विरोध प्रदर्शन करने के लिए भी भड़का रहे थे।

जिले के संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त पुलिस बल और अर्द्धसैनिक बल तैनात करने के साथ सुरक्षा बढ़ा दी गयी है। उपायुक्त ने कहा, ‘‘प्रशासन जिले में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी ऐहतियाती उपाय कर रहा है।’’ उन्होंने कहा कि जो भी जिले का शांतिपूर्ण माहौल खराब करने की कोशिश करेगा, उससे कानून के अनुरुप निपटा जाएगा।

इसी बीच किश्तवाड़ में कर्फ्यू लगाए जाने के खिलाफ डोडा और भदरवाह के कई शहर आज आंशिक रुप से बंद रहे। डोडा और भदरवाह में एक खास समुदाय की दुकानें, व्यवसायिक प्रतिष्ठान और स्कूल बंद रहे जबकि सरकारी कार्यालय और बैंक सामान्य रुप से काम करते रहे।

Share it
Top