बच्चों में बोलने की परेशानी का पता लगाएगी कंप्यूटर की ये प्रणाली

बच्चों में बोलने की परेशानी का पता लगाएगी कंप्यूटर की ये प्रणालीमैसाचुसेट्स इंस्ट्टियूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT) के शोधकर्ताओं ने एक नई कंप्यूटर प्रणाली विकसित की है, जो वच्चों की बोलने की परेशानी का पता लगाने के साथ ही उसका इलाज भी बताएगी।

बोस्टन (भाषा)। बोलने और शब्दों का उच्चारण न कर पाने की परेशानी से जूझ रहे बच्चों के लिए MIT के शोधकर्ताओं ने एक नई कंप्यूटर प्रणाली विकसित की है। यह प्रणाली नन्हें बच्चों में इन विकारों की जांच करेगी और विशेष निदान भी बताएगी। बोलने और भाषा संबंधी विकार से पीड़ित बच्चों पर शुरु में ही ध्यान दिया जाए तो बाद में उनकी परेशानी काफी हद तक कम हो सकती है।

बहरहाल, एक अध्ययन के मुताबिक, अनुमानित तौर पर 60 प्रतिशत ऐसे बच्चों की समस्या को केजी या इसके बाद तक कोई समझ नहीं पाता है। अमेरिका में मैसाचुसेट्स इंस्ट्टियूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT) और मैसाचुसेट्स जनरल हॉस्पीटल के (MGH) इंस्ट्टियूट ऑफ हेल्थ प्रोफेशन को उम्मीद है कि नई कंप्यूटर प्रणाली से इस स्थिति में बदलाव आएगा।

प्रणाली के तहत बच्चे की कहानी कहने की कला का परीक्षण लिया जाएगा, जिसमें आवाज को विश्लेषण के लिए रिकार्ड किया जाएगा। इसमें चित्रों की एक श्रृंखला के साथ उन्हें एक कहानी सुनाई जाएगी और फिर बच्चों से कहानी को अपने शब्दों में कहने को कहा जाएगा। एमआईटी में प्रोफेसर जॉन गुट्टाग ने कहा कि यहां विचार बहुत की उत्साहित करने वाला है जिसमें बेहद सरल और सहज उपकरणों की मदद से पूरी तरह से स्वचालित तरीके से जांच की जाएगी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top