भाजपा और आप में वाक्युद्ध तेज

भाजपा और आप में वाक्युद्ध तेजभाजपा और आप के बीच फिर शुरू हो गई जुबानी जंग। 

नई दिल्ली/जोधपुर (भाषा)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा एक वीडियो जारी करके नियंत्रण रेखा के पार लक्षित हमले को लेकर प्रधानमंत्री को ‘‘सलाम'' करने और उनसे पाकिस्तान के दुष्प्रचार को ‘‘बेनकाब'' करने का आग्रह करने के एक दिन बाद भाजपा ने मंगलवार को कहा कि उनकी टिप्पणी सेना की कार्रवाई का ‘‘सबूत मांगने'' के बराबर है। वहीं आप ने पलटवार करते हुए कहा कि प्रतिद्वंद्वी पार्टी राजनीति कर रही है।

आप का तंत्र हुआ सक्रिय

केजरीवाल की टिप्पणी को भाजपा द्वारा भारतीय सेना के दावे पर सवाल खड़ा करने वाला बताने के बाद आप ने अपने तंत्र को सक्रिय किया। दिल्ली भाजपा ने केजरीवाल के आवास के बाहर प्रदर्शन किया जबकि केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल ने पाकिस्तान को भारत की स्थिति पर सवाल उठाने का एक मौका दे दिया। राजनीतिक नुकसान भांपते हुए केजरीवाल ने जोधपुर में संवाददाताओं से बात की और कई ट्वीट किये जबकि आप के वरिष्ठ नेताओं ने मीडिया को जानकारी दी। आप ने इसके साथ ही पाकिस्तानी उच्चायोग के पास एक प्रदर्शन किया जिसका नेतृत्व पार्टी के दिल्ली संयोजक दिलीप पांडेय ने किया।

महबूबा पर साधा निशाना

आप मंत्री कपिल मिश्रा ने जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती पर एक कार्यक्रम में निशाना साधा और उन पर ‘‘आतंकवादियों को आश्रय'' देने का आरोप लगाया। मिश्रा ने महबूबा से सवाल किया कि क्या वह मारे गए आतंकवादी बुरहान वानी और संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु को आतंकवादी मानती हैं। उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा उन लोगों के साथ हाथ क्यों मिला रही है जिन्होंने आतंकवादियों को आश्रय दिया? ऐसे किसी को पद पर बैठने देने के पीछे क्या मजबूरी है जो देश से प्यार नहीं करता, जो अफजल गुरु को एक आतंकवादी नहीं कहता....भाजपा को जवाब देना चाहिए।''

Share it
Top