तनाव को दूर करती है मसाला चाय

तनाव को दूर करती है मसाला चायgaonconnection

एक ऐसा कॉलम है, जिसमें हम आपकी रसोई और स्वाद को बेहतर करने के लिए एक से बढ़कर एक स्वादिष्ट रेसिपी की जानकारी परोसते हैं। हमारे मास्टरशेफ भैरव सिंह की बताई रेसिपी के गुणों की वकालत हमारे हर्बल आचार्य डॉ दीपक आचार्य करते हैं। सेहत और किचन के तड़के को ध्यान में रखकर सेहत की रसोई कॉलम आप तक पहुंचाया जाता है। हमारे दोनों एक्सपर्ट्स का मानना है कि आपकी सेहत को दुरुस्त रखने के सारे उपाय आपकी रसोई में ही उपलब्ध हैं। सेहत की रसोई यानि बेहतर सेहत आपके बिल्कुल करीब। इस कॉलम के जरिए हमारा प्रयास है कि आपको आपकी किचन में ही सेहतमंद बने रहने के व्यंजन से रूबरू करवाया जाए। सेहत की रसोई में इस सप्ताह मास्टरशेफ हमारे पाठकों के लिए ला रहे हैं एक पारंपरिक चटनी ‘मसाला चाय व उड़द दाल की चटन’।                                                                            

                                                                                                                                                                                                           

मसाला चाय

आवश्यक सामग्री (चार लोगों के लिए)

  • दूध- 150 मिली, पानी- 100 मि.ली.
  • चाय पत्ती- 2 चम्मच, शक्कर- 2 चम्मच
  • केसर- दो चुटकी, जायफल का चूर्ण- आधा चम्मच
  • अदरक कद्दूकस- 1 चम्मच, पुदीना पत्तियां- 10 

विधि

पानी गर्म करें और इसमें अदरक और जायफल का चूर्ण डाल दें। अगले एक मिनिट तक इसे उबलने दें। अब इसमें चाय पत्ती और दूध की बताई मात्रा डालें और धीमी आंच पर उबलने दें। कुछ देर में इसमें शक्कर और केसर भी डाल दें और अखिरी में पुदीना की पत्तियों को भी इसमें मिला दें और फिर इसे कप में छानकर गर्मा-गर्मा उड़द दाल की पकौड़ी के साथ परोस दें।

उड़द दाल की पकौड़ी 

आवश्यक सामग्री  

  • पॉलिश की हुई उड़द दाल- 100 ग्राम, हरी मिर्च- 2
  • धनिया पत्ती- 2 चम्मच, नमक स्वादानुसार, तलने के लिए तेल

विधि

उड़द दाल को 30 मिनिट के लिए पानी में डुबोकर रखें, बाद में पानी अलग कर लें और इसे मिक्सर में बारीक पीस लें। एक मिक्सिंग बाउल में पिसी हुई उड़द दाल को निकाल लें। मिर्च और धनिया को बारीक काट लें और इन्हें पिसी हुई दाल में अच्छे से मिला दें, नमक भी इसी वक्त मिला दें। एक कढ़ाही में वनस्पति तेल लेकर गर्म करें और छोटे-छोटे गोले बनाकर पिसी हुई दाल को खौलते तेल में डालकर तलें जब तक कि यह हल्के भूरे रंग की ना हो जाए, और इस तरह पकौड़ी तैयार हो जाएंगी। गर्मा गर्मा पकौड़ी और चाय का लुत्फ उठाएं।

क्या कहते हैं हर्बल आचार्य

बरसात के मौसम में गर्मागर्म पकौड़ी और चाय, वो भी पुदीना और केसर वाली, वाह! पकौड़ी के साथ चाय का अपना मज़ा है क्योंकि ये ना सिर्फ इस मौसम में आपके स्वाद को तरोताज़ा कर देगी बल्कि शरीर में खासी ऊर्जा भी लाने में मदद करेगी। जायफल और पुदीना की चाय तनाव दूर करने में काफी कारगर है। केसर इस चाय की रेसिपी में स्वाद को दुगुना करने के अलावा पेट का भी ख्याल रखता है। उड़द के पकौड़े और चाय की इस रेसिपी को दिन में ही आजमाएं, रात में पकौड़ियों को खाने से पाचन क्रिया बाधित हो सकती है और अपचन की शिकायत भी। मास्टरशेफ की इस रेसिपी को बरसते पानी के मौसम में जरूर आजमाएं, बरसात का रोमांच दुगुना जरूर हो जाएगा।   

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top