उमस के बाद अब बिजली ने रुलाया

उमस के बाद अब बिजली ने रुलायाgaonconnection

लखनऊ। राजधानी में उमस ने लोगों का जीना मुहाल कर रखा है, वहीं आएदिन हो रही बिजली कटौती से लोगों का खासी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। शनिवार देर रात शहर के कई इलाकों में बिजली गुल होने से लोगों की रात की नींद उड़ी रही।

रमजान में जहां एक ओर 24 घण्टे बिजली की मांग हो रही तो वहीं लगातार हो रही बिजली कटौती से परेशान लोगों शुक्रवार को विद्युत उपकेन्द्र पर जमकर हंगामा किया था लेकिन इसके बाद भी शनिवार को स्थिति जस की तस रही। लाल कुआं, खदरा, ऐशबाग, चारबाग, कटरा, मोज्ज्मनगर, बरौरा, बालागंज, निशातगंज, फैजाबाद रोड आदि इलाकों में शनिवार को हुई बिजली कटौती से लाखों लोगों का समस्याओं का सामना करना पड़ा। कई जगह तो घंटे भर में लाइट आ भी गई लेकिन कई इलाके ऐसे भी रहे जहां रविवार सुबह करीब छह बजे लाइट आई।

चारबाग निवासी सोनू गुप्ता का कहना है, “एक तो आसमान से आग बरस रही है दूसरा बिजली की आवाजाही चैन से रहने नहीं दे रही है। दिन भर थक हार के घर आओ कह घर पर आराम करेंगे तो वह भी बिजली कटौती के कारण नहीं नसीब हो रही है।”

खदरा मदेय गंज पुलिस चौकी के पास रहने वाली शबाना अंसारी का कहना है, “एक तो रमजान दूसरी तरफ बेताहाशा हो रही गर्मी में सिर्फ पंखे और कूलर का ही सहारा रहता है ऐसे में लाइट का चले जाना तो जैसे कयामत हो जाता है। जब से रमजान शुरू हुए है हर रोज चार से पांच घण्टे लाइट गुल हो जाती है।”

लेसा के चीफ इन्जीनियर एस के वर्मा का कहना है, “शहर में बिजली कटौती नहीं होती है। शहर को जितनी आवश्यकता है उतनी बिजली लेसा विभाग सप्लाई करता है। हां, कुछ ऐसे इलाके है जहां शहर के मेन्टीनेस के चलते बिजती कटौती की जाती है। 

शहर में हर जगह निर्माण कार्य चल रहा है जिस कारण भूमिगत केबल में फाल्ट आ जाता है तो लाइट चली जाती है। लोग इसको बिजली कटौती का नाम देते है। एक केबल कटने का मतलब है चार घण्टे बिजली का ठप होना। तो यहां तो हर रोज न जाने कितने केबल फाल्ट होती हैं।”

Tags:    India 
Share it
Top