साइबर घपलों से निपटने के लिए गठित होगी टीम

साइबर घपलों से निपटने के लिए गठित होगी टीमबजट में साइबर 

नई दिल्ली (भाषा)। डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के प्रयासों के बीच सरकार ने साइबर घपलों व धोखाधड़ी से निपटने के लिए कंप्यूटर इमरजेंसी रेस्पोंस टीम गठित करने का प्रस्ताव किया है।

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने बजट भाषण (2017-18) में यह घोषणा की। उन्होंने कहा,‘ हमारे वित्तीय क्षेत्र की स्थिरता व संरक्षा की सुरक्षा के लिए साइबर सुरक्षा बहुत महत्वपूर्ण है। वित्तीय क्षेत्र के लिए कंप्यूटर इमरजेंसी रेस्पोंस टीम (सीईआरटी-फिन) गठित की जाएगी।

उन्होंने कहा कि प्रस्तावित टीम वित्तीय क्षेत्र के सभी नियामकों व अन्य भागीदारों के साथ तालमेल में काम करेगी। पिछले साल विभिन्न बैंकों के 32 लाख से अधिक डेबिट कार्डों से जुड़ी जानकारी में सेंधमारी की गई। यह भारत में बैंकों से जुड़ा अपनी तरह का सबसे बड़ा घपला था।

नोटबंदी के बाद सरकार डिजिटल अर्थव्यवस्था पर जोर दे रही है। वित्तमंत्री ने कहा कि वित्तीय फर्मों के प्रस्ताव से जुड़ा एक विधेयक भी संसद के मौजूदा बजट सत्र में पेश किया जाएगा।


Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.