बजट में प्रधानमंत्री की सोच की छाप :रेल मंत्री प्रभु 

बजट में प्रधानमंत्री की सोच की छाप :रेल मंत्री प्रभु रेल मंत्री सुरेश प्रभु ।

नई दिल्ली (भाषा)। लोकसभा में आज वित्त मंत्री द्वारा पेश किए गए बजट को नए युग की शुरुआत करार देते हुए रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दृष्टिकोण की छाप स्पष्ट दिखाई देती है।

वित्त वर्ष 2017-18 का बजट संसद में पेश होने के बाद प्रभु ने संसद परिसर में संवाददाताओं से कहा कि सरकार ने नोटबंदी और जीएसटी के महत्वपूर्ण फैसले लिए थे। जिसके बाद आज के बजट के साथ नए युग की शुरुआत की गई है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने इस बजट में आर्थिक पहलू के साथ सामाजिक समानता का भी ध्यान रखा है। प्रभु ने कहा कि देश में बहुत बड़े स्तर पर निवेश किया जा रहा है और इससे विकास होगा। उदाहरण के लिए रेलवे में एक लाख 31 हजार करोड़ रुपए का व्यय शामिल है।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज अपने बजट भाषण में कहा, ‘‘2017-18 में रेलवे के लिए कुल पूंजी और विकास व्यय 1,31,000 करोड़ रुपए रहने का अनुमान है। इसमें सरकार द्वारा बजट से उपलब्ध कराई गई 55,000 करोड़ रुपए की राशि भी शामिल है।'' उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जो कहते रहे हैं और उनके विचारों की छाप वित्त मंत्री के हर वक्तव्य में स्पष्ट झलकी है। यह आगे की दिशा में ले जाने वाला बजट है।

पुरानी परंपरा को तोड़ते हुए इस साल सरकार ने आम बजट और रेल बजट एक साथ पेश किया है।


Share it
Share it
Share it
Top