यूपी चुनावः उन्नाव जिले में 8.62 लाख मतदाताओं ने नहीं डाले वोट

यूपी चुनावः उन्नाव जिले में 8.62 लाख मतदाताओं ने नहीं डाले वोटलोकतंत्र के महापर्व में मतदाताओं ने अपने वोट की आहुति डाली और पिछले साल के मतदान रिकार्ड को तोड़ दिया।

उन्नाव। लोकतंत्र के महापर्व में मतदाताओं ने अपने वोट की आहुति डाली और पिछले साल के मतदान रिकार्ड को तोड़ दिया। मगर, ऐसे मतदाताओं की संख्या भी लाखों में रही जिन्होंने इस महापर्व में हिस्सा ही नहीं लिया। मत न डालने वाले मतदाताओं की संख्या जिले में 8.6२ लाख से अधिक रही। जिले की विधानसभाओं में सबसे उदासीन मतदाता भगवंतनगर विधानसभा के रहें। यहां लगभग पौने दो लाख मतदाताओं ने मतदान नहीं किया।

चुनाव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

रविवार को विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में जिले में रिकार्ड मतदान हुआ। जिले में 216776 मतदाताओं में से 1305590 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इनकी वजह से ही जिले में 60.23 प्रतिशत मतदान हो सका। यह पिछले वर्ष के मुकाबले एक रिकार्ड है। हालांकि पिछले मतदान के मुकाबले इस बार मतदान प्रतिशत में कोई खास बढ़ोत्तरी नहीं हो सकी। वर्ष 2012 में हुए चुनाव में 59.6२ फीसद मतदान हुआ था।

रविवार को हुए मतदान में जिले के 2167706 मतदाताओं में से 862116 वोटरों ने मतदान ही नहीं किया। प्रशासन द्वारा तमाम जागरुकता के प्रयासों के बावजूद भगवंतनगर विधानसभा के लगभग पौने दो लाख मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं किया। नतीजतन भगवंतनगर विधानसभा रविवार को हुए मतदान के मामले में सबसे निचले स्थान पर रही। उधर मोहान विधानसभा में सबसे अधिक मतदाताओं ने मतदान किया। मोहान विधानसभा में 322822 मतदाताओं में से 202320 मतदाताओं ने वोट डाला। जिससे यहां मताधिकार का प्रयोग न करने वाले मतदाताओं की संख्याा सबसे कम रही।

मोहान विधानसभा में मतदान न करने वाले वोटरों की संख्या बाकी पांच विधानसभा क्षेत्रों के मुकाबले सबसे कम थी। यहां सिर्फ 120502 मतदाताओं ने वोट नहीं डाले। मोहान विधानसभा में सबसे अधिक 62.67 फीसद मतदान हुआ। वहीं सबसे कम मतदान के मामले में सदर विधानसभा के मतदाता दूसरे नंबर पर रहे। यहां 151257 मतदाताओं ने वोट नहीं डाले। जबकि बांगरमऊ में 135987, सफीपुर में 1,30,789 और पुरवा में 149661 मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग नहीं किया।

Share it
Top