विधानसभा चुनाव: रुचि और शुचि की टक्कर के बीच मोदी की रैली

Rishi MishraRishi Mishra   9 Feb 2017 8:08 PM GMT

विधानसभा चुनाव: रुचि और शुचि की टक्कर के बीच मोदी की रैलीशुचि चौधरी और रुचिवीरा हैं आमने सामने।

बिजनौर। वह साल 2003 था जब आखिरी बार कोई प्रधानमंत्री बिजनौर की धरती लगभग 14 साल बाद फिर वही मौका यहां पर आया था। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई यहां आए थे। उनके बाद लग 10 फरवरी 2017 को यहां नरेंद्र मोदी आ रहे हैं। यहां शहर के वर्धमान कॉलेज के ग्राउंड की क्षमता लगभग 60 हजार लोगों की है मगर भाजपा के लोग मानते हैं कि कम से कम एक लाख लोग यहां आ जाएंगे। भाजपा का दावा कुछ भी हो मगर यहां लोगों से बातचीत कर के बात सामने आ रही है कि उपचुनाव 2014 में सपा ने यहां पहली बार विधानसभा सीट पर जीत हासिल की थी। उसके बाद में एक बार फिर प्रत्याशी रुचि वीरा कांटे की टक्कर दे रही हैं।

यहां दो महिला प्रत्याशी हैं। भाजपा के बड़े नेता ऐश्वर्य चौधरी की पत्नी शुचि चौधरी मैदान में हैं। उनके सामने वर्तमान विधायक रुचिवीरा हैं। 2012 में हुए उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बिजनौर सीट से भारतीय जनता पार्टी के कैंडिडेट कुंवर भारतेंद्र 17,836 वोटों के अंतर से जीते थे। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी महबूब को हराया। इस चुनाव में कुंवर भारतेंद्र को 68,969 वोट मिले जबकि महबूब के पक्ष में 51,133 वोट पड़े। कुल 65.88 प्रतिशत वोटर्स ने इस चुनाव में हिस्सा लिया। 2014 में हुआ उपचुनाव विधायक कुंवर भारतेंद्र 2014 के लोकसभा चुनाव में सांसद बने तो इस सीट पर उपचुनाव हुआ, जिसमें समाजवादी पार्टी की रुचि वीरा ने जीत हासिल की। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के कैंडिडेट हेमेंद्र पाल को हराया था।

पीएम की रैली की तैयारियां।

बिजनौर में भी दिख रहा हिंदू-मुसलमान का ध्रुवीकरण

मुजफ्फरनगर दंगे के बाद पश्चिम उत्तर प्रदेश में हिंदू-मुसलमानों के बीच स्पष्ट ध्रुवीकरण दिख रहा है। यहां वर्धमान कॉलेज के सामने पंचर का काम करने वाले मोहम्मद असलम (65 वर्ष) स्पष्ट कहते हैं, “उनको अखिलेश यादव से कोई दिक्कत नहीं है। मुलायम सिंह अब बूढ़े हो चुके थे सो अखिलेश ने सबकुछ अपने हाथ में लिया है। हम रोज कमाने खाने वाले आदमी हैं, मगर वोट तो अखिलेश को देंगे। वो मुसलमानों के हितैषी हैं।” पास के गांव मंढावली के रहने वाले मो. हारुन बताते हैं, “इस बार तो साइकिल ही चलेगी। अखिलेश हमको पसंद है।” जबकि उनके साथ खड़े हुए राजेश बताते हैं, “नरेंद्र मोदी ने गन्ना किसानों के लिए बजट में अच्छी घोषणा की हैं। गन्ना के तुलते ही हमको पोस्टपेड चेक मिलेगा, जिससे भुगतान का संकट दूर हो जाएगा।” मगर दबी जुबान में वे भी वोट के लिए हिंदू मुसलमान फैक्टर को जिम्मेदार मानते हैं।

सुबह 11 बजे से मोदी की रैली सुरक्षा के कड़े इंतजाम

नरेंद्र मोदी की रैली यहां सुबह 11 बजे से है। करीब 14 साल बाद कोई प्रधानमंत्री बिजनौर आ रहा है। ऐसे में जिले के लोगों में काफी उत्साह है। एडीजी ला एंड आर्डर दलजीत चैधरी ने भी यहां डेरा डाल दिया है। भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी राकेश त्रिपाठी बताते हैं, “लगभग एक लाख लोग रैली देखने के लिए यहां आएंगे।”

बिजनौर विधानसभा सीट एक नजर में

सीट नंबर 22 जिला- बिजनौर लोकसभा क्षेत्र- बिजनौर जिला क्षेत्रफल-4,561 वर्ग किमी जनंसख्या- 36,82,713 (जनरल 78.5, एससी 21.4, एसटी 0.1 फीसदी) साक्षरता- 58 फीसदी , बिजनौर विधानसभा क्षेत्र में कुल रजिस्टर्ड वोटर्स की संख्या 3,17,824 है। इनमें पुरुषों की संख्या 1,73,089 है जबकि महिला मतदाताओं की संख्या 1,44,726 है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top