चुनाव प्रक्रिया को बाधित करने वालों को न बख्शें : नसीम जैदी

चुनाव प्रक्रिया को बाधित करने वालों को न बख्शें : नसीम जैदीनसीम जैदी, मुख्य चुनाव आयुक्त

लखनऊ। केंद्रीय चुनाव आयोग की टीम ने बुधवार को चुनावी अभियान की समीक्षा की। उन्होंने सीधे निर्देश दिये कि चुनाव प्रक्रिया में बाधा डालने वालों को बख्शा न जाए। इस दौरान मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने विभिन्न राजनैतिक दलों के नेताओं से बातचीत की। अन्य दलों ने तो नसीम जैदी ने निष्पक्ष चुनाव आयोजित कराए जाने की सिफारिश की मगर भाजपा ने आयोग के समक्ष भी कैराना में पलायन का मुद्दा उठा दिया। बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव ने कहा कि कैराना में पलायन करने वालों के भीतर डर बना हुआ है। उन लोगों के लिए केंद्रीय बलों के जरिये अतिरिक्त सुरक्षा दी जाये। भाजपा ने डीजीपी जावीद अहमद और मुख्य सचिव राहुल भटनागर को भी हटाने की मांग की।

मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने अपने दौरे के पहले दिन सपा, कांग्रेस, राष्ट्रीय लोकदल, भाजपा, कम्युनिस्ट पार्टियों, राष्ट्रीवादी कांग्रेस पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के नेताओं से मुलाकात की। भाजपा से भूपेंद्र सिंह यादव, जेपीएस राठौर, कैलाशपति त्रिपाठी, बहुजन समाज पार्टी, कम्युनिस्ट पार्टी आफ इंडिया अशोक मिश्र, सीपीआई एम, प्रेमनाथ राम, कांग्रेस, रालोद अनिल दुबे, रविंद्र दुबे ने यहां नसीम जैदी से मिले। भाजपा के महासचिव भूपेंद्र यादव ने बताया कि, हमने कैराना का मुद्दा आयोग के सामने उठाया। मतदाताओं की सुरक्षा की मांग की। वहां पलायन करने वाले मतदाता बेहाल हैं। उनको समझ नहीं आ रहा है कि वे किस तरह से अपना वोट दें। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री भूपेन्द्र यादव के नेतृत्व में भाजपा प्रतिनिधि मण्डल ने मुख्य चुनाव आयुक्त से मिलकर प्रदेश के मुख्य सचिव राहुल भटनागर और पुलिस महानिदेशक जावीद अहमद को पद से हटाने सहित कैराना से पलायन करने वालो को सुरक्षित मतदान की व्यवस्था की मांग की। चुनाव आयोग के अधिकारी ने इसके बाद में मुख्य सचिव राहुल भटनागर और डीजीपी जावीद अहमद से मुलाकात कर के चुनाव प्रक्रिया की समीक्षा की।

Share it
Top