ललितपुर में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बसपा अध्यक्ष मायावती पर साधा निशाना, कहा पत्थर वाली बुआ से बचकर रहें सभी

ललितपुर में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बसपा अध्यक्ष मायावती पर साधा निशाना, कहा पत्थर वाली बुआ से बचकर रहें सभीबुंदेलखंड के ललितपुर में रैली को संबोधित करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।

ललितपुर। बुंदेलखंड में चुनावी जनसभाओं में शब्द भेदी बाणों के तीर चल रहे हैं। ललितपुर के गिन्नोटी बाग मे रैली को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सपा सरकार की पांच साल की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि बुंदेलखंड की गरीबी, बदहाली को करीब से देखा लेकिन अंग्रेजी मीडिया वालों ने घास की रोटी के मामले को उछाला, उन्हें भी नही पता कि बथुआ क्या होता है। अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार हमेशा गरीबों के लिए काम करती रहेगी। केंद्र सरकार बस बड़ी-बड़ी बातें करती है। वे तो गरीबों को एक-एक लीटर घी भी नहीं दे सकते। हमारी पार्टी गरीबों को समाजवादी पैकेट दे रही है, ताकि कोई भूखे न सके।

रैली को संबोधित करते सीएम अखिलेश यादव।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि "हमारी सरकार गरीबों के लिए हमेशा काम करती रहेगी। उनका विकास ही हमारा लख्य है। हम गरीबों को भर पेट हमेशा राशन दिलाते रहेंगे और अगर इस बार फिर समाजवादी सरकार बनी तो सभी पेंशन धारकों को 1000 रुपये प्रति माह मिलेगा। बच्चों को दूध पाउडर और घी दिया जाएगा। अखिलेश ने कहा कि अगर जनता ने हमें फिर सेवा का अवसर दिया तो महिलाओं को प्रेशर कुकर भी दिया जाएगा। भाजपा पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार बस वादे करती है। लोकसभ में किए गए वादे अभी भी अधूरे ही हैं। नोटबंदी पर ंज कसते हुए तंज कसते हुए समाजवादी पार्टी के प्रमुख ने कहा "मोदी ने नोटबंदी कर सबको लाइन में लगवा दिया. बैंक के आग लाइन में लगी एक महिला ने वहीं बच्चे को जन्म दिया तो बैंक वालों ने उसका नाम खजांची रख दिया. हम उस गरीब बच्चे को ढूढ़कर दो लाख रुपए देकर आए, ताकि वह सच में खजांची बन जाए." वहीं बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती पर हमला बोलते हुए अखिलेश ने कहा, "पत्थर वाली सरकार की हमारी बुआ से सभी बचकर रहना. साइकिल और पंजा तो कहीं भी एडजेस्ट हो जाएंगे, लेकिन अगर हाथी घुस आया तो अपको गांव से बाहर भागना पड़ेगा."

Share it
Top