अखिलेश यादव ने कन्नौज से बताया पारिवारिक रिश्ता, कहा- यहीं से सांसद रहते बना था मुख्यमंत्री, फिर बनवाइए सरकार

अखिलेश यादव ने कन्नौज से बताया पारिवारिक रिश्ता, कहा- यहीं से सांसद रहते बना था मुख्यमंत्री, फिर बनवाइए सरकारइसी हफ्ते में दूसरी बार बृहस्पतिवार को पहुंचे थे अखिलेश यादव, इससे पहले आज मैनपुरी में की रैली।

रवीन्द्र सिंह यादव, कम्युनिटी रिपोर्टर

सकरावा/कन्नौज। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव गुरुवार को एक बार फिर कन्नौज जिले में चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे। उन्होंने विकास कार्यों को गिनाते हुए सपा के पक्ष में वोट मांगे। इस दौरान उन्होंने कहा कि जिले की हसेरन तहसील को मॉडल तहसील बनाया जाएगा और सपेरों के लिए अलग से आवास बनेंगे।

जिला मुख्यालय से करीब 55 किमी दूर गंगा सिंह महाविद्यालय के निकट मैदान पर चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सपा सरकार में कराए गए विकास कार्यों को गिनाते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर चलने वाले लोग साइकिल चिन्ह पर वोट करेंगे। बुधवार को प्रधानमंत्री की रैली पर तंज कसते हुए अखिलेश ने कहा कि यहां के लोगों को स्वागत में उन्हें ऐसा इत्र लगाना चाहिए था कि एक महीने तक खुशबू न जाती। दूसरी बार चुनावी जनसभा को संबोधित करने के दौरान उन्होंने फिर से यहां की जनता से भावनात्मक अंदाज में रिश्ता जोड़ा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कन्नौज के लोगों ने ही राजनीति सिखाई। पहला सांसद का चुनाव लड़कर जीता हूं। यहीं की देन है जो मुख्यमंत्री बन सका। कन्नौज लोकसभा क्षेत्र से उनकी पत्नी डिम्पल यादव को निर्विरोध सांसद चुनकर नया इतिहास बनाया। इसी लोकसभा क्षेत्र से नेताजी (मुलायम सिंह यादव) भी सांसद रहे। इसके बाद बसपा पर प्रहार करते हुए अखिलेश बोले कि पिछली सरकार ने केवल पत्थरों पर ही काम किया है।

रैली के दौरान लोगों की भीड़

उन्होंने कहा कि सरकार बनने पर सौरिख में भी गाय दुग्ध प्लांट खोला जाएगा। इससे किसानों का दूध चार रुपए लीटर महंगा बिकेगा। साथ ही गल्ला मंडी भी बनाई जाएगी। अपने विकास कार्य गिनाते हुए उन्होंने राजकीय मेडिकल कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज, पैरामेडिकल कॉलेज, कार्डियोलॉजी, कैंसर अस्पताल, डायल 100 वगैरह का भी जिक्र किया।

जनसभा में सपेरे उस समय बीन बजाने लगे जब मुख्यमंत्री ने कहा कि सपेरों के लिए आवास बनेंगे। उनके लिए जगह भी तलाशी जाएगी। साथ ही कहा कि एक्सप्रेस-वे देश का सबसे बड़ा मार्ग है। इस पर चलने वाले लोग सपा के पक्ष में मतदान करेंगे।

Share it
Top