कांग्रेस के घोषणपत्र में आम और खास सबको साधने की कोशिश, पढ़िए 10 बड़ी घोषणाएँ

कांग्रेस के घोषणपत्र में आम और खास सबको साधने की कोशिश, पढ़िए 10 बड़ी घोषणाएँलखऩऊ में घोषणा पत्र जारी करते कांग्रेसी नेता। फोटो- महेंद्र

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में उत्तर प्रदेश की जनता का दिल जीतने के लिए बुधवार को कांग्रस पार्टी ने अपना घोषणा पत्र जारी किया, जिसमें गांव मनरेगा, पंचायतों में महिला आरक्षण, महिला थाना, किसानों का लोन माफ और दलित और अल्पसंख्यकों की कई कल्याणकारी योजनाओं को शामिल किया गया।

इस घोषणपत्र के जरिए कांग्रेस ने लोक-लुभावन मुद्दों के साथ ही अपने परंपरागत वोटरों को साधने की कोशिश की, जिसमें किसान, दलित, मजदूर और अल्पसंख्यकों पर बहुत जोर दिया गया। प्रद्रेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रदेश अध्यक्ष राजब्बर, कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश के प्रभारी गुलामनबी आजाद, दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित, राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद, प्रमोद तिवारी, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष निर्मल खत्री समेत कई नेता उपस्थित रहे।

1.किसानों का कर्ज माफ और बिजली बिल हाफ

कांग्रेस ने अपने घोषण पत्र में किसानों कर्ज माफ और उनका बिजली बिल हाफ करने की घोषणा की है। इसके साथ ही किसानों को उनकी उपज का अधिक लाभ देने के लिए भारत सरकार की तरफ से किसानों के लिए घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य से अधिक लाभ देने की बात की गई। कृषि निवेश को बढ़ावा, मंडी प्रणाल में सुधार और किसानों के लिए उर्वरकों की उपलब्धता बढ़ाने पर जोर दिया गया है। खेतिहर मजदूरों के लिए न्यूनतम मजदूरी को सुनिश्चत करने और खेती के लिए पानी सहकारी समितियों के गठन करने की बात भी कांग्रेस ने अपने घोषणपत्र में दी। किसानों को कृषि के लिए लोन लेने में परेशानी न हो इसके लिए राज्य सरकार की तरफ से संचालित बैंक स्थापित की घोषणा की।

2.किसानों की भूमि जबर्दस्ती कोई नहीं ले पाएगा

कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में कहा है कि वह भूमि अधिग्रहण कानून को अधिक प्रभावी बनाएगी, जिसमें किसानों की सहमित के बिना उनकी जमीन कोई अधिग्रहण नहीं कर पाएगा। जमीन अधिग्रहण से जो परिवार प्रभावित होंगे उनके परिवार को नौकरी देना अनिवार्य किया जाएगा। सरकारी कामों के लिए किसानों से जो जमीन ली जाएगी उसके बदले किसानों को बाजार मूल्य से चार चुना पैसा दिया जाएगा।

3.खाद्य सुरक्षा के तहत हर परिवार को 35 किलो अनाज

खाद्व सुरक्षा कानून को और अधिक प्रभावी बनाने के साथ ही इसके प्रत्येक लाभुक परिवार का 35 किलो अनाज देने की घोषणा कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में की है। इसके साथ ही मिडडे मील में हर बच्चे के गर्म और पका हुआ खाना देने साथ ही मिड डे मील में गड़बड़ी करने वालो अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की बात भी कांग्रेस ने कही है।

4.स्वास्थ्य सुविधा मजबूत करने के लिए नए मेडिकल कालेजों की स्थापना

प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओें का मजबूत करने के लिए कांग्रसे अपने घोषणपत्र में कहा है कि वह प्रदेश में कई विश्वस्तरीय मेडिकल कॉलेज की स्थापना करेगी। सपा-कांग्रेस की सरकार बनने पर इसकी शुरूआत वाराणसी से की जाएगी। इसके अलावा हर ब्लाक में अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस एम्बुलेंस सेवा देने की बात भी कांग्रेस ने की है।

5.पंचायत चुनाव में महिलाओं का 50 प्रतिशत आरक्षण

कांग्रेस ने अपनी घोषणापत्र में महिलाओं को लुभाने के लिए कई प्रमुख घोषणाएं की है, जिसमें महिलाओं को पंचायत में 50 प्रतिशत आरक्षण, गावों से आकर शहरों में पढ़ाई और कामकाजी महिलाओं के लिए नए छात्रावास, कन्या सशक्तीकरण योजना के तहत 10 साल की आयु पूरी करने वाली हर लड़ी को 50 हजार से एक लाख से रूपए की मदद की घोषणा शामिल है।

6.हर ब्लाक में नवोदय विद्यायल की तरह आवासीय विद्यालय

अनसूचित जाति, जनजाति, पिछडा वर्ग और अल्पसंख्यों छात्रों की पढाई पर विशेष जोर देते हुए कांग्रेसे ने अपने घोषणापत्रऋ में कहा है कि वह जवाहर नवोदय विद्याय की तर्ज पर हर ब्लाक में आवासीय विद्यालय, अधिक से अधिक छात्रावास और छात्रवृत्ति के रूप में छात्र-छात्राओं को 500 रुपए देने की घोषणा की है।

7.गरीब लोगों के लिए अम्बेडकर आरोग्यश्री योजना

कांग्रेस ने अपनी घोषणा पत्र अनसूचित जाति, जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए अम्बेडकर आरोग्यश्री योजना की शुरूआत की घोषणा की है। जिसमें सरकारी और निजी अस्पतालों में इन समाज के लोगों के इलाज के लिए 2 लाख रुपए की चिकित्सा सुविधा देने की घोषणा की है।

8-कानून-व्यवस्था को मजबूत करने के लिए 5 नई पुलिस अकादमी प्रशिक्षण स्कूल

कांग्रेस ने अपने घोषण पत्र में कानून-व्यवस्था को मजबूत करने के लिए पुलिसिंग सुधार की कई योजनाओं की घोषणा की है। जिसमें पुलिसिंग में सुधार करने के लिए प्रकाश सिंह बनाम भारत सरकार के मामलें सुप्रीमकोर्ट के दिशा- निर्देशों का पालन करने की घोषणा की है। प्रदेश में 5 नई पुलिस अकादमी प्रशिक्षण केन्द्र, प्रत्येक जिले में महिलाओं के लिए महिला सुरक्षाकर्मियों से लैस तीन नए थाने की घोषणा की है। पुलिस उत्पीड़न की घटनाओं को रोकने के लिए पुलिस लोकपाल के गठन की भी घोषणा कांग्रेस ने की है।

8-पयर्टन को बढ़ावा देने के लिए नोएडा में नाइट सफारी

कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में प्रदेश में पयर्टन केा बढ़ावा देने के लिए कई योजनाओं की घोषण की है जिसमें नोएडा में विश्वस्तरीय नाइट सफारी, प्रत्येक जिले की सदर के मुख्यालय में इतिहास की प्रर्दशनी और इसको पर्यटन केन्द्र के रूप में विकसित करने की घोषणा शामिल है। वाराणसी के बुनकरों, लखनऊ के चिकन कारीगरी क्षेत्र और मलिहाबाद के आम जोन के लिए विशेष विकास प्राधिकरण की स्थापना भी शामिल है।

9.साल में मनरेगा के तहत 150 दिन काम

मनरेगा कानून के जरिए लोगों को साल में 150 दिन काम की घोषणा के साथ ही रोजगार के बढ़ाने की कई येाजनाओं की शुरूआत करने की घोषणा भी कांग्रेस की है। जिसमें सरकार बनने पर 50 लाख लोगों के रोजगार, शिक्षा मित्रों की सहायत अध्यापक के रूप में प्रमोशन, लड़कियों के लिए साइकिल और साइबर साक्षरता की बात की गई।

10.चीनी मिलों को पुनर्जीवित किया जाएगा

कांग्रेस ने अपनी घोषणा में चीनी मिलों को ठीक करके इसके जरिए रोजगार बढ़ाने की बात की है। इसके साथ ही गन्ना किसानों की सभी समस्यओं के निपटारे और चीनी उद्योग को बढावा देने की घोषण की है।

ये भी पढ़िए

‘आम’ की सियासत के जरिए दिल जीतना चाहती है कांग्रेस, घोषणा पत्र में मलिहाबाद में विशेष पर्यटन केंद्र बनाने का वादा

कांग्रेस का घोषणापत्रः किसानों का लोन माफ़ और बिजली बिल हाफ, लड़कियों की शादी में एक लाख का वादा

Share it
Top