कांग्रेस ने यूपी में महागठबंधन की संभावना को नकारा

कांग्रेस ने यूपी में महागठबंधन की संभावना को नकाराउत्तर प्रदेश का विधान भवन।

नई दिल्ली (भाषा)। कांग्रेस ने आज यूपी में समाजवादी पार्टी समेत अन्य दलों के साथ किसी महागठबंधन की संभावना को एक तरह से खारिज करते हुए कहा कि राहुल गांधी राज्य में उन चीजों को दुरस्त करना चाहते हैं जो पिछले 27 साल से खराब स्थिति में हैं।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमारा रुख बिल्कुल स्पष्ट है। हम कह रहे हैं ‘‘27 साल, यूपी बेहाल''। राहुल गांधी की यात्रा सत्ता की लालसा में नहीं निकाली गई बल्कि राज्य में राजनीति के नये प्रतिमान गढ़ने के लिए है.''

उन्होंने कहा कि कांग्रेस विभिन्न तरह की विभाजन की राजनीति के जरिये विकास के मुद्दे से ध्यान हटाने के लिए सपा, बसपा और भाजपा को पूरी तरह जिम्मेदार ठहराती रही है। जब सवाल किया गया कि राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को ‘अच्छा लड़का' कहा था तो सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष की किसी नेता से व्यक्तिगत दुश्मनी नहीं है और लोगों की पसंद और नापसंद पर राजनीति की बुनियाद नहीं रखी जा सकती। सुरजेवाला के बयान इन खबरों की पृष्ठभूमि में महत्वपूर्ण हैं कि कल ही प्रदेश से कांग्रेस के 17 विधायकों ने राहुल गांधी के साथ बैठक में भाग लिया था जिसमें उन्होंने कांग्रेस उपाध्यक्ष से कहा कि उन्हें विधानसभा चुनावों में धर्मनिरपेक्ष दलों के साथ गठबंधन बनाने पर विचार करना चाहिए।

कांग्रेस प्रवक्ता ने इन धारणाओं को खारिज कर दिया कि जदयू नेता शरद यादव की दो दिन पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और आज पार्टी महासचिव गुलाम नबी आजादी से मुलाकात महागठबंधन का संकेत है। यादव ने कल उत्तर प्रदेश सपा अध्यक्ष शिवपाल यादव से भी मुलाकात की थी।

Share it
Top