समाजवादी पार्टी में लड़ाई और बढ़ी, मुलायम बोले- मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष, अखिलेश सिर्फ यूपी के सीएम और शिवपाल प्रदेश अध्यक्ष

समाजवादी पार्टी में लड़ाई और बढ़ी, मुलायम बोले- मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष, अखिलेश सिर्फ यूपी के सीएम और शिवपाल प्रदेश अध्यक्षदिल्ली में मुलायम के साथ शिवपाल और अमर सिंह।

दिल्ली। समाजवादी पार्टी में सुलह के आसार नजर नहीं आए हैं। सपा अब भी दो फाड़ है। अखिलेश और मुलायम के बीच बात बनती नजर नहीं आ रही है। दिल्ली में अमर सिंह और शिवपाल यादव के साथ बैठक के बाद मुलायम सिंह ने कहा कि मैं पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष हूं और अखिलेश यूपी के मुख्यमंत्री हैं। वहीं रामगोपाल ने कहा कि साइकिल मिले तब भी चुनाव लड़ा जाएगा, इस वक्त अखिलेश से बड़ा कोई चेहरा नहीं, जो अखिलेश चेहरा लगा लेगा वहीं चुनाव जीतेगा।

दो फाड़ सपा में भारी उठापटक के बीच रविवार दो दिल्ली में मुलायम सिंह यादव, अमर सिंह और शिवपाल यादव की कई घंटे की मंत्रणा हुई। इसके बाद पत्रकारों से मुखातिब हुए मुलायम सिंह यादव ने कहा, “रामगोपाल को पार्टी से निकाल दिया गया था इसलिए उन्हें लखनऊ में अधिवेशन बुलाने का अधिकार नहीं हैं। वो अधिवेशन फर्जी था। मैं पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष, शिवपाल प्रदेश अध्यक्ष और अखिलेश यूपी के मुख्यमंत्री हैं।”

दो फाड़ सपा में भारी उठापटक के बीच रविवार दो दिल्ली में मुलायम सिंह यादव, अमर सिंह और शिवपाल यादव की कई घंटे की मंत्रणा हुई। इसके बाद पत्रकारों से मुखातिब हुए मुलायम सिंह यादव ने कहा, “रामगोपाल को पार्टी से निकाल दिया गया था इसलिए उन्हें लखनऊ में अधिवेशन बुलाने का अधिकार नहीं हैं। वो अधिवेशन फर्जी था। मैं पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष, शिवपाल प्रदेश अध्यक्ष और अखिलेश यूपी के मुख्यमंत्री हैं।”

इससे पहले समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए अमर सिंह ने कहा , “घर के चिराग से ही घर को आग लगी है। इस विवाद से मेरा दूर-दूर तक कोई वास्ता नहीं है।” उन्होंने कहा कि न खाता न बही जो अखिलेश कहें वही सही लेकिन पार्टी को टूट से बचाने और पिता-पुत्र के रिश्ते के लिए वो इस्तीफा देने को तैयार हैं।” सारी विषमता का ठीकरा मेरे और भाई शिवपाल के सिर पर फोड़ा गया है।

अमर सिंह के बयान को अपना समर्थन देते हुए शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि वो भगवान में आस्था रखते हैं और मेरे ऊपर नेता जी के ऊपर टोना-टटके की बातें गलत है और वो ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। शिवपाल ने कहा कि वो जो कुछ हैं वो नेता जी की वजह से हैं और आखिर तक उनका साथ देंगे।

साइकिल से बड़ा है ब्रांड अखिलेश- रामगोपाल

एक तरह जहां मुलायम गुट ने आज रामगोपाल को विलेन ठहराते हुए उनके बुलाए गए सम्मेलन को भी फर्जी बता दिया वहीं रामगोपाल ने मुलामय गुट को ही फर्जी करार दिया है। समाचार चैनल आजतक से बात करते हुए रामगोपाल यादव ने कहा कि सारे विधायक मेरे साथ हैं, जरुरत पड़ी तो चुनाव आयोग के सामने पेश कर दूंगा।” साइकिल मिलने न मिलने के सवाल पर रामगोपाल ने कहा, “साइकिल मिले या न मिले चुनाव में तो हम जाएंगे ही, अखिलेश साइकिल से बड़ा ब्रांड हैं और उनका चेहरे पर ही चुनाव लड़ेंगे।”

सपा मुख्यालय में क्या बोले मुलायम

इससे पहले शिवपाल के साथ लखनऊ स्थित सपा मुख्यालय पहुंचे मुलायम सिंह यादव ने खुद पुहंचे। इस दौरान पत्रकारों द्वारा सपा और यादव परिवार में जारी खींचतान के बारे में पूछे जाने पर मुलायम ने कहा ‘‘हमारी पार्टी में कोई विवाद नहीं है, मुलायम ने कहा कि अब सबकुछ अखिलेश के पास है मेरे पास मुट्ठी भर विधायक हैं। अखिलेश मेरे लड़का है अब क्या करें। मुलायन ने नारे लगा रहे कार्यकर्ताओं से कहा कि नारे लगाने के बजाय क्षेत्र में जाकर काम करें। लोहिया के आदर्शों को धूमिल नहीं होने दिया जाएगा।

अखिलेश ही हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष- नरेश उत्तम

इस बीच, यह भी खबर आई कि मुलायम राज्य मुख्यालय स्थित अपने कमरे का ताला बंद कर गए। इस बारे में पूछे जाने पर सपा के प्रदेश अध्यक्ष (अखिलेश गुट) नरेश उत्तम ने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया, मगर कहा कि दफ्तर से मुलायम और शिवपाल की नेम प्लेट कभी नहीं हटाई गई थीं। उन्होंने कहा ‘‘अखिलेश जी हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं और हम उनके नाम पर ही चुनाव लड़ेंगे। उन्हें सपा के राष्ट्रीय अधिवेशन में पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया था।''

साथ में भाषा का इनपुट

Share it
Top