सेवानिवृत्त आईएएस और पीसीएस अफसरों ने ठोंकी चुनावी ताल, भ्रष्टाचार मिटाने का किया वादा 

सेवानिवृत्त आईएएस और पीसीएस अफसरों ने ठोंकी चुनावी ताल, भ्रष्टाचार मिटाने का किया वादा पूर्व आईएएस और पीसीएस अफसर ने बनाई लोक गठबंधन पार्टी।

गाँव कनेक्शन संवाददाता
बाराबंकी।
सेवानिवृत्त हो चुके अधिकारियों ने मिलकर भ्रष्टाचार को हराने का संकल्प लिया है। इसके लिए कई पूर्व सरकारी अफसरों ने मिलकर एक राजनीतिक दल का गठन किया है। वे अब चुनाव में अपनी किस्मत आजमाकर विकास का बिगुल फूंकने का वादा कर रहे हैं।

कुछ रोज पहले जनपद में एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया था। इसमें जिले के
पदाधिकारियों सहित विधानसभा उम्मीदवार आफताब अंसारी ने दावा किया कि यदि वे चुनाव जीतकर विधायक बनते हैं तो जिले में व्याप्त भ्रष्टाचार व अराजकता को खत्म करने की पूरी कोशिश करेंगे।

पत्रकारों से बातचीत से पहले समन्यवक हरिश्चंद्र पांडेय तथा समन्वयक पूर्व एडीजी एसएन सिंह, राघवेन्द्र शुक्ला और प्रदेश सचिव विजय शंकर सिंह तथा जिला संयोजक अजय अवस्थी की अध्यक्षता में विधान सभा कार्यालय का उद्घाटन किया गया।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि लोक गठबंधन पार्टी में केन्द्र और राज्य सरकार के पूर्व आईएएस व पीसीएस अधिकारी शामिल हैं। इस पार्टी के गठन का कारण बताते हुए उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए उन्होंने इस दल के बैनर तले चुनाव लड़ने का फैसला किया है। पार्टी के पदाधिकारियों ने बताया कि इस दल में भारत सरकार के भूतपूर्व सचिव एसएटी रिज़वी और भूरेलाल के साथ-साथ यूपी के पूर्व डीजीपी एसएन सिंह व आईपीएस अधिकारी हरिश्चंद्र पांडेय भी शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि इस पार्टी से नोएडा के रिटायर्ड आईएस अधिकारी एसके लाखा और पूर्व निदेशक आईआईटी खड़गपुर के प्रोफेसर एसके दुबे सहित वरिष्ठ पत्रकार एम हसन भी जुड़े हुए हैं। हालांकि, इस दल को जनता का कितना समर्थन मिलता है यह तो चुनाव के बाद ही पता चलेगा।

Share it
Top