“न तू चाहिए, न तेरी तस्वीर चाहिए”

Jamshed QamarJamshed Qamar   12 Jan 2017 6:06 PM GMT

“न तू चाहिए, न तेरी तस्वीर चाहिए”समाजवादी पार्टी का एक पोस्टर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में चुनावी बादल छा गए हैं लेकिन इस दौरान समाजवादी खेमे में गरजना-बरसना जारी है। इस घमासान में इतनी परतें बन गई हैं कि जनता को समझ नहीं आ रहा कि कौन किसकी तरफ है।

समाजवादी पार्टी के पारिवारिक कलह अखिलेश बनाम मुलायम है? या अखिलेश बनाम शिवपाल? या फिर मुलायम बनाम राम गोपाल? इस पूरे घमासान के दौरान पोस्टर वार भी लगातार चल रहा है। मौका था, दिल्ली में मुलायम सिंह यादव के घर में पार्टी की मीटिंग का। इस मीटिंग में अखिलेश समर्थक भी थे। बैठक के बाद मुलायम समर्थक लोगों का ध्यान एक पोस्टर पर गया जिसपर रामगोपाल यादव की तस्वीर थी। कार्यकर्ताओं ने अपने गुस्से और वफादारी का मुज़ाहिरा करते हुए पोस्टर को फाड़ कर रामगोपाल को निकाल दिया।

दिल्ली में मुलायम सिंह के घर पर लगा पोस्टर

आप को बता दें कि अखिलेश के साथ चल रहे नेता जी के घमासान के बीच ही वो अपने चचेरे भाई रामगोपाल यादव से भी नाराज़ हैं। मुलायम सिंह मीडिया से ये भी कह चुके हैं कि राम गोपाल यादव अखिलेश का करियर खत्म कर देंगे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top