मुलायम खुद चाहते थे गठबंधन, अब क्यों पलट गए:जदयू

Ashish DeepAshish Deep   11 Nov 2016 9:47 PM GMT

मुलायम खुद चाहते थे गठबंधन, अब क्यों पलट गए:जदयूमुलायम सिंह यादव

पटना (आईएएनएस)| बिहार में सत्ताधारी महागठबंधन में शामिल जनता दल (यूनाइटेड) के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने शुक्रवार को कहा कि यूपी में गठबंधन का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि वह गठबंधन की बात लेकर सपा के पास नहीं गए थे, बल्कि सपा की तरफ से ही इसका प्रस्ताव लेकर शिवपाल यादव आए थे।

त्यागी ने कहा कि सपा ने पांच नवंबर को रजत जयंती समारोह में भाग लेने के लिए न्योता भेजा था। मुलायम सिंह यादव ने खुद नीतीश कुमार को फोन किया था।

त्यागी ने कहा कि यूपी में किसी भी पार्टी के लिए अकेले दम पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को हराना मुश्किल है, सभी धर्मनिरपेक्ष दलों को साथ आना होगा। उन्होंने यह भी कहा कि अगर वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराना है, तो पहले उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में भाजपा को हराना होगा।

भाजपा को अकेले नहीं हरा पाएगी सपा

समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रमुख मुलायम सिंह यादव द्वारा उत्तर प्रदेश चुनाव में किसी भी दल से गठबंधन न करने की बात कही जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए त्यागी ने कहा कि किसी भी पार्टी को गलतफहमी में नहीं रहना चाहिए।

उन्होंने कहा कि आरएसएस जितना उत्तर प्रदेश में सक्रिय है, उतना किसी और जगह सक्रिय नहीं है। ऐसे में सभी धर्मनिरपेक्ष दलों को एक साथ आना होगा। त्यागी ने यहां तक कहा, "अगर उत्तर प्रदेश चुनाव में सपा और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) साथ आ जाएं तो जद (यू) वहां चुनाव भी नहीं लड़ेगी।"

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top