कानपुर में चुनाव के दौरान हिंसा, कांग्रेस और भाजपा प्रत्याशी के समर्थक भिड़े,  बीजेपी कार्यकर्ता गंभीर रुप से घायल

कानपुर में चुनाव के दौरान हिंसा, कांग्रेस और भाजपा प्रत्याशी के समर्थक भिड़े,  बीजेपी कार्यकर्ता गंभीर रुप से घायलकांग्रेस और भाजपा समर्थकों को संभालने की कोशिश करते सुरक्षाबल के जवान

कानुपर। आज कानपुर नगर में किदवई नगर विधान सभा को छोड़ बाकि की 9 विधान सभा में शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुआ लेकिन किदवई नगर विधानसभा में हंगामा हो गया। कांग्रेस और बीजेपी के समर्थकों में मारपीट हुई। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

कानपुर में मतदान के लगभग सात घंटे पहले ही विवाद शुरू हो गया था। रात 2 बजे के आस पास कांग्रेस प्रत्याशी अजय कपूर ने अपने घर पर पथराव की रिपोर्ट दर्ज करायी थी। कानपुर नगर की 10 विधान सभाओं में सुबह 7 बजे से मतदान शुरू हुआ तो पूरी तरह से स्थितियां नियंत्रण में थी लेकिन कानपुर नगर की सबसे कांटे की टक्कर वाली मानी जा रही कानपुर की किदवईनगर सीट से चुनाव लड़ रहे बीजेपी प्रत्याशी महेश त्रिवेदी और कांग्रेस प्रत्याशी अजय कपूर के समर्थकों के बीच पिछले कई दिनो से आरोप और प्रत्यारोपों की लड़ाई लड़ रहे थे।

वोटिंग वाले दिन किदवई नगर विधानसभा का महौल सुबह से ही गर्म था इस विधानसभा के गोविन्द नगर स्थित पोलिग बूथों पर सुबह से ही कांग्रेस प्रत्याशी और निवर्तमान विधायक अजय कपूर और भाजपा के प्रत्याशी महेश त्रिवेदी के समर्थकों के बीच हुटींग और झड़पें शुरू हो गयी थीं और शाम होते-होते इसने लड़ाई का रूप ले लिया। रात करीब 1.30 बजे के आस पास अजय कपूर के घर पर कई गाड़ियों से पहुंचे अज्ञात लोगों ने पथराव कर तोड़फोड़ की, जिसकी सूचना पर देर रात ही अजय कपूर के घर पर फोर्स को तैनात कर दिया गया। उसके बाद रात से ही तनाव का माहौल था। इस घटना को लेकर अजय कपूर ने महेश के समर्थकों पर हमले का आरोप लगाया उसके बाद आज दिन में गोविन्द नगर के सीटीआई चौराहे के पास चाचा नेहरू इंटर कालेज के पोलिंग सेंटर में भाजपा और कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थक आपस में भिड़ गए। यह वही जगह है जहां अजय कपूर का घर है यहाँ पर अजय कपूर के भाई विजय कपूर और उनके समर्थको की भिडंत महेश के समर्थकों से हो गयी, जिसमे विजय और उनके समर्थक भाजपा के समर्थकों पर भारी पड़े और भाजपा प्रत्याशी के बेटे अभिषेक त्रिवेदी समेत 8 लोग बुरी तरह से घायल हो गए।

घटना से आक्रोशित महेश त्रिवेदी और उनके हजारों समर्थकों ने गोविन्द नगर थाने का घेराव किया और धरने पर बैठ गए। मौके पर कई थानों की फ़ोर्स और पुलिस के आला अधिकारी आनन फानन में पहुचे जिसके बाद जिला निर्वाचन अधिकारी कौशल राज शर्मा ने अजय कपूर के भाई विजय कपूर और उनके अन्य साथियों के विरुद्ध मुकदमा भी दर्ज कराया गया।

महेश त्रिवेदी के समर्थकों ने फर्जी वोटिंग का आरोप लगाकर गांधी स्मारक कॉलेज में हंगामा किया। बताया जा रहा है कि इस दौरान महेश के समर्थकों ने विजय कपूर से न सिर्फ अभद्रता की बल्कि उनके साथ मारपीट भी की। यह खबर जब अजय कपूर के समर्थकों को लगी तो सभी आग-बबूला हो गए। थोड़ी ही देर बाद गोविंदनगर के चाचा नेहरू इंटर कालेज में महेश त्रिवेदी और अजय कपूर के समर्थकों का आमना-सामना हो गया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक यहां अजय कपूर के समर्थकों ने महेश के करीबी लोगों पर हमला बोल जमकर मारपीट की। हमले में महेश के परिवार के एक सदस्य का सिर फूट गया। बवाल की सूचना पर पहुंची पुलिस ने लाठीचार्ज कर बवाल कर रहे लोगों को खदेड़ा। कानपुर के एसएसपी आकाश कुलहरी ने बताया, मामले में विजय कपूर और उनके अन्य साथियों के खिलाफ 147, 148, 323, 504, 506 और 336 आदि सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

मतदान करने के लिए लाइन में लगे मतदाता।

बवाल की चिंगारी कई दिनों से सुलग रही थी। लेकिन यह चिंगारी शनिवार की आधी रात को “ज्वालामुखी” में तब्दील हो गई। सुबह होते-होते यह मामला तूल पकड़ता गया और दोपहर बाद खूनी संघर्ष में तब्दील हो गया। इसके अलावा कानपुर के अन्य सभी विधान सभाओं में मतदान के बाद सभी प्रत्याशियों ने अपनी अपनी जीत का दावा किया जहा एक और 70% मतदान का दावा करने वाला जी प्रशासन 60% तक भी नहीं पहुच सका वही महिलाओं ने घर से निकल कर मतदान किया ग्रामीण क्षेत्रो में मतदान को ले कर उत्साह भी देखा गया क्योकि घूंघट की आड़ में महिलाओं ने निकल कर मतदान किया जिला प्रशाशन द्वारा बनाये गए आदर्श पोलिंग बूथ की भीं मतदाताओं ने काफी तारीफ की यह पहला मौका था की जब मतदान केन्द्रों की सूरत ही बदल दी गयी थी और लोगों ने इसकी जम कर सराहना भी की लेकिन कानपुर की जनता ने इस बार भी मतदान के लिए उस तरह से जोश नहीं दिखाया।

घायल

Share it
Top