उत्तर प्रदेश चुनाव: आखिरी चरण का मतदान आज, 40 सीटों के लिए मैदान में 535 उम्मीदवार

उत्तर प्रदेश चुनाव: आखिरी चरण का मतदान आज, 40 सीटों के लिए मैदान में 535 उम्मीदवारप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन दिन तक वाराणसी में प्रचार किया।

लखनऊ। लोकतंत्र के यज्ञ में आज सात जिलों के मतदाता पूर्णाहूति देंगे। आखिरी चरण में 2012 में हुए चुनाव के तहत इन जिलों में करीब 58 फीसदी वोट पड़े थे। ऐसे में इस बार मतदाताओं पर 60 फीसदी से अधिक मतदान कर के फर्स्ट डिवीजन में पास होने का दबाव होगा। सातवें चरण के तहत यूपी के 7 जिलों की 40 सीटों पर मतदान होने है। सातवें चरण में पूर्वी उत्तर प्रदेश के सात जिलों भदोही, चंदौली, गाजीपुर, जौनपुर, मिर्जापुर, सोनभद्र और वाराणसी की 40 सीटों पर मतदान होगा। इस चरण में कुल 535 उम्मीदवार मैदान में हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी सहित सात जिलों के 40 विधानसभा क्षेत्रों में मंगलवार की शाम प्रचार समाप्त हो गया। भले ही छह चरण के बाद सबसे कम सीटें इसी चरण में हैं मगर सबसे आक्रामक प्रचार इसी दौर में किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन दिन तक वाराणसी में प्रचार किया। दूसरी ओर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी अनेक सभाएं कीं। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और सांसद डिंपल यादव भी कई सीटों पर सामने आईं। बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी अपनी ओर से पूरी ताकत झोंक दी। इस चरण के लिए सभी दलों के नेताओं ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. इस चरण में सात जिलों की 40 सीटों पर मतदान होगा.

चुनाव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उत्तर प्रदेश का सियासी दंगल धीरे-धीरे करके अपने अंतिम चरण पर पहुंच चुका है. बुधवार को सातवें चरण के तहत यूपी के 7 जिलों की 40 सीटों पर मतदान होने वाला है, जिसके चलते आज चुनाव प्रचार का शोर थम गया. आपको बता दें कि सातवें चरण में पूर्वी उत्तर प्रदेश के सात जिलों भदोही, चंदौली, गाजीपुर, जौनपुर, मिर्जापुर, सोनभद्र और वाराणसी की 40 सीटों पर मतदान आठ मार्च को होगा. इस चरण में कुल 535 उम्मीदवार मैदान में हैं.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी टी वेंकटेश ने बताया कि, सातवें चरण में 1.41 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे। इनमें 64.76 लाख महिला मतदाता शामिल हैं। सातवें चरण के लिए कुल 14,458 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। अंतिम चरण में तीन नक्सल प्रभावित जिले भी शामिल हैं जिसमें सोनभद्र, मिर्जापुर और चंदौली में सुरक्षाबलों को चैकस रहने को कहा गया है। इस चरण में वाराणसी जिले में सबसे ज्यादा 127 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं. वहीं 535 में से 136 निर्दलीय उम्मीदवार हैं। सबसे अधिक 24 उम्मीदवार वाराणसी कैंट सीट से मैदान में हैं जबकि सबसे कम छह प्रत्याशी केराकत सीट से हैं। पिछले विधानसभा चुनाव साल 2012 में इन 40 सीटों में से 23 सीटें समाजवादी पार्टी के खाते में गई थीं। जबकि बहुजन समाज पार्टी को पांच, भारतीय जनता पार्टी को चार, कांग्रेस को तीन और अन्य को पांच सीटें मिली थीं।

नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में मतदान का समय सुबह 7:00 से शाम 4:00 बजे तक

लखनऊ। नक्सल प्रभावित उत्तर प्रदेश विधानसभा के सातवें चरण में तीन विधानसभा क्षेत्रों को आठ मार्च को होने वाले मतदान में मतदान का समय सुबह सात से लेकर शाम 4:00 बजे तक सोनभद्र जनपद के 401 राबर्ट्सगंज, 403 दुद्धी तथा चन्दौली जनपद के 383 चकिया विधानसभा क्षेत्र में प्रातः 7:00 बजे से सायं 4:00 बजे तक तथा शेष अन्य विधान सभा क्षेत्रों में पूर्ववत प्रातः 7:00 बजे से सायं 5:00 बजे तक रहेगा। एडीजी दलजीत सिंह ने बताया कि नक्सल प्रभावित इन तीन विधानसभा क्षेत्रों के लिए दोगुनी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। ताकि कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ने की दशा में तत्काल उससे निपटा जा सके।

  • सातवें चरण में 07 जिलों के 40 विधान सभा क्षेत्रों में कुल मतदाताओं की संख्या- 1,41,88,233
  • पुरुषों की संख्या- 76,87,816 तथा महिला मतदाताओं की संख्या- 64,99,711 तथा थर्ड जेन्डर की संख्या- 706
  • मतदान का समय- सोनभद्र जनपद के 401 राबर्टसगंज, 403 दुद्धी(अ0ज0जा0) तथा चन्दौली जनपद के 383 चकिया(अ0जा0) विधान सभा क्षेत्र में प्रातः 7.00 बजे से सायं 4.00 बजे तक तथा शेष अन्य विधान सभा क्षेत्रों में प्रातः 7.00 बजे से सायं 5.00 बजे तक
  • सबसे ज्यादा मतदाता 392 भदोही विधान सभा क्षेत्र में - 4,15,458
  • सबसे कम मतदाता 389 वाराणसी दक्षिण विधान सभा क्षेत्र में - 2,81,278
  • युवा मतदाताओं की संख्या- 2,42,414 (18-19 वर्ष)
  • दिव्यांग मतदाताओं की संख्या- 63,227
  • मतदान केन्द्रों की संख्या- 8,682
  • मतदेय स्थलोें की संख्या- 14,458
  • कुल प्रत्याशियों की संख्या- 535
  • कुल महिला प्रत्याशियों की संख्या- 51
  • सबसे अधिक प्रत्याशी 390 वाराणसी कैन्ट - 24
  • सबसे कम प्रत्याशी 372 केराकत(अ0जा0)(जौनपुर)- 6
  • मतदेय स्थलों की संख्या जहॉ लगाये गये हैं-
  • (1) डिजिटल कैमरा- 750 (2) वीडियो कैमरा- 783 (3) वेब कास्टिंग- 1,596
  • माइक्रो आब्जर्वर की संख्या- 1,583
  • शांतिपूर्ण मतदान के लिये केन्द्रीय बल एवं पुलिस की पर्याप्त व्यवस्था की गयी है।
  • सेक्टर मजिस्ट्रेट- 1,029, जोनल मजिस्ट्रेट- 156 तथा स्टैटिक मजिस्ट्रेट- 123
  • मतदान कार्य में लगे वाहनों की संख्या- हल्के वाहन- 3,126 तथा भारी वाहन- 3,397
  • मतदान कार्य में प्रयोग की जाने वाली ईवीएम की आरक्षित सहित संख्या- बैलेट यूनिट 19,771 तथा कन्ट्रोल यूनिट 15,904
  • ऽ वीवीपैट- 375-गाजीपुर , 366-जौनपुर, 388-वाराणसी उत्तर, तथा 390-वाराणसी कैन्ट में (आरक्षित सहित) कुल - 3,212 वीवीपैट लगाये जायंेगे
  • चिन्हित क्रिटिकल पोलिंग स्टेशन- 3,246
  • क्रिटिकल पोलिंग सेन्टर की संख्या- 1,843
  • संवेदनशील चिन्हित हैमलेट (मजरे) की संख्या- 722
  • मतदान कार्य में लगे कार्मिकों की संख्या- 71,671
  • जनरल आब्जर्वर की संख्या- 38
  • व्यय प्रेक्षकों की संख्या- 10
  • पुलिस आब्जर्वर की संख्या- 07
  • विधान सभा सामान्य निर्वाचन 2012 में सातवें चरण के जिलों में सम्पन्न हुए मतदान का कुल प्रतिशत 57.92

पार्टी वाइज प्रत्याशियों की संख्या

  • बीएसपी 40, बीजेपी 32, सीपीआई 14, सीपीआई(एम)06, आई एन सी 09, एन सी पी 05, आरएलडी 21 , एसपी 31, पंजीकृत पार्टियॉ 238 तथा स्वतंत्र प्रत्याशी 139

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top