सीमा पर सैनिक नहीं संघ के लोग तैनात किए जाएं : कांग्रेस

सीमा पर सैनिक नहीं संघ के लोग तैनात किए जाएं : कांग्रेसकांग्रेस पार्टी का झंडा।

लखनऊ (भाषा)। कांग्रेस ने रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में सेना के लक्षित हमले का श्रेय राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को दिए जाने पर तंज करते हुए आज कहा कि अगर ऐसा है तो सीमा पर सैनिकों के बजाय संघ के लोगों को तैनात किया जाए।

कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य और लखनऊ के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों के पर्यवेक्षक हुसैन दलवी ने यहां संवाददाताओं के सवालों के जवाब में कहा कि रक्षा मंत्री पर्रिकर ने लक्षित हमले के लिए सेना के बजाय संघ को श्रेय दिया है। अगर यह सैन्य कार्रवाई वाकई संघ के बल पर हुई है तो अब सैनिकों के बजाय संघ के कार्यकर्ताओं को सरहदी मोर्चो पर भेजा जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि संघ के लोग देश में विघटनकारी हरकतें कर रहे हैं, बेहतर होगा, अगर वे सीमा पर जाकर दुश्मन का सामना करें। दलवी ने कहा कि पर्रिकर जैसा इतनी ‘बकवास' करने वाला कोई दूसरा रक्षा मंत्री नहीं हुआ है। प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री और गृह मंत्री बेहद संवेदनशील पद हैं, किसी रक्षा मंत्री से ऐसे सतही बयानों की अपेक्षा नहीं की जाती।

मालूम हो कि रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने सोमवार को अहमदाबाद में आयोजित एक कार्यक्रम में भारतीय सेना के लक्षित हमले का श्रेय राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शिक्षा को देते हुए कहा था कि प्रधानमंत्री और वह खुद संघ के प्रशिक्षण की वजह से इस सैन्य कार्रवाई का कडा फैसला ले सके।

दलवी ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ‘किंग मेकर' बनकर उभरेगी और उसकी मदद से बगैर सरकार नहीं बन सकेगी। उन्होंने जनता दल यूनाइडेट और पीस पार्टी से गठबंधन के संकेत भी दिए।

कांग्रेस राज्यसभा सदस्य ने दावा किया कि हाल में सम्पन्न पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी की किसान यात्रा की वजह से दल में नई जान आयी है और चुनाव में कांग्रेस मजबूत बनकर उभरेगी।


Share it
Top