समाजवादी पार्टी के रजत जयंती समारोह में भावुक शिवपाल ने कहा मुझे मुख्यमंत्री नहीं बनना

समाजवादी पार्टी के रजत जयंती समारोह में भावुक शिवपाल ने कहा मुझे मुख्यमंत्री नहीं बननासमाजवादी पार्टी के रजत जयंती समारोह में बोलते हुए सपा प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह।

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के रजत जयंती समारोह में समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह ने मंच से कहा मुझे कभी मुख्यमंत्री पद का लालच नहीं रहा, मैं मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहता हूं।

समाजवादी पार्टी शनिवार को अपनी स्थापना के 25 वर्ष पूरे होने पर रजत जयंती समारोह मना रही है। इसका आयोजन लखनऊ के जनेश्वर मिश्र पार्क में किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के मंच पर समाजवादी विचारधारा को मानने वाले देश के बड़े-बड़े नेता शामिल हुए।

प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने लाखों कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि रजत जयंती का अवसर डॉ. राममनोहर लोहिया व जनेश्वर मिश्र के संघर्षों को याद करने का दिन है। उन्होंने राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव के संघर्षो को याद करते हुए कहा, "हमने उनसे बहुत कुछ सीखा है। देश के पूर्व प्रधानमंत्री एच.डी.देवगौड़ा की तारीफ करते हुए शिवपाल ने कहा कि उनका पूरा जीवन ही संघर्षो में बीता है। वह आज यहां मौजूद हैं। यह सपा के लिए सम्मान की बात है।

हमसे इतना भी क्या विरोध है

इस अवसर पर समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से कहा हमसे इतना भी क्या विरोध है। हमें मुख्यमंत्री नहीं बनना। हमने सरकार का बहुत सहयोग किया है। चाहे जितनी बार बरखास्त कर दीजिए।

अधिकारियों ने अटकाए मेरे काम में रोड़े

अपने दिल की बात कहते हुए शिवपाल ने कहा कि मैंने इस सरकार और मुख्यमंत्री को चार साल तक पूरा सहयोग दिया है। चाहे पीडब्ल्यूडी विभाग हो, सिंचाई विभाग या जल संसाधन विभाग मैंने प्रदेश की बेहतरी के लिए पूरी जान लगा दी है। यह प्रदेश की जनता बताएगी। अधिकारियों ने मेरे काम में कई रोड़े अटकाए पर मैंने कुछ नहीं कहा।

मंच पर शिवपाल ने बड़े भावुक होते हुए अखिलेश से कहा जितना प्यार मांगोंगे उतना प्यार देंगे। खून मांगोगे तो खून देंगे पर नेताजी का अपमान बर्दाश्त नहीं होगा।

कार्यक्रम के शुरुआत में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शिवपाल के चरण स्पर्श कर आशीर्वाद लिया। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव तथा पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव बेहद गर्मजोशी से मिले और काफी देर बातचीत की।

शिवपाल ने पार्टी प्रमुख व जिम्मेदार नेताओं को सतर्क करते हुए कहा हमारे बीच घुसपैठिए आ गए हैं, सावधान रहने की ज़रूरत है। कुछ लोगों को बहुत मेहनत के बाद भी कुछ नहीं मिलता और कुछ को विरासत में मिल जाता है, कुछ थोड़ी कानाफूसी कर पा लेते हैं। ईमानदारी से काम करने वालों को मौका मिलना चाहिए उनका सम्मान होना चाहिए।

शिवपाल ने लालू यादव का स्वागत किया कहा कि लालू यादव हम से बहुत बड़े हैं। उनके पास बहुत अनुभव है। शरद यादव के बारे में बोलते हुए सपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा शरद जी हमारे अभिभावक हैं हमने उनके साथ ट्रेनिंग ली है, बहुत कुछ सीखा भी है।

जनता परिवार के नेता एकजुट हों : देवगौडा

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौडा ने जनता परिवार के नेताओं से सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ ‘एकजुट' होने की अपील की है। देवगौडा ने आज समाजवादी पार्टी के रजत जयंती समारोह में कहा, ‘‘समाजवादी पार्टी सांप्रदायिक ताकतों का सामना करने वाली प्रमुख पार्टी है। वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह यादव, लालू, शरद को एक साथ आना चाहिए अन्यथा देश में सांप्रदायिक ताकतों का मुकाबला करना मुश्किल है।''

मेरा मानना है कि धर्मनिरपेक्ष ताकतों को मुलायम के नेतृत्व में एकजुट होना चाहिए। सपा में कुछ मनमुटाव है लेकिन मैं सपा से कहूंगा कि एकजुट रहें और देश की सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ लड़ाई का नेतृत्व करें।
एचडी देवगौडा पूर्व प्रधानमंत्री

देवगौडा ने जम्मू कश्मीर के हालात पर कहा कि उनके प्रधानमंत्री रहते वहां एक बार भी निषेधाज्ञा नहीं लगी। अब वहां के हालात किसी से छिपे नहीं हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के नतीजे भारत के भविष्य का एजेंडा तय करेंगे और मुलायम के नेतृत्व में सपा जीतेगी।

सपा रजत जयंती में जुटे जनता परिवार के पुराने दिग्गज

समाजवादी पार्टी के रजत जयंती समारोह के बहाने आज जनता परिवार के पुराने दिग्गज नेताओं ने मंच साझा किया। समारोह में पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौडा, राजद प्रमुख लालू प्रसाद, रालोद प्रमुख अजित सिंह, जदयू नेता शरद यादव, इनेलोद नेता अभय चौटाला और प्रख्यात वकील राम जेठमलानी शामिल हुए।

सपा कार्यकर्ताओं की जोरदार नारेबाजी के बीच सभी नेता एक एक कर मंच पर पहुंचे। सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव सबसे अंत में आए। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी सांसद पत्नी डिंपल यादव के साथ मंच पर मौजूद थे। सपा के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने सबका स्वागत किया.

समारोह का आयोजन राजधानी के जनेश्वर मिश्र पार्क में किया गया। समारोह की तैयारियों की कमान स्वयं शिवपाल ने संभाल रखी थी।

महागठबंधन' की संभावनाओं पर संशय

सपा के इस ‘मेगा शो' को ‘महागठबंधन' की संभावनाओं से भी जोडकर देखा जा रहा है। देवगौडा से जब महागठबंधन की संभावना के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश, गुजरात और पंजाब के चुनावों के बाद ऐसे हालात शायद पैदा हों। फिलहाल वह यहां सपा के आमंत्रण पर रजत जयंती समारोह में हिस्सा लेने आए हैं।

जदयू नेता शरद यादव ने कहा कि गठबंधन को लेकर अभी कोई बातचीत नहीं हुई है। मुलायम सिंह यादव बेहतर बता सकते हैं क्योंकि यहां (उत्तर प्रदेश) सपा बड़ी पार्टी है।




Share it
Top