उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में अपराह्न चार बजे तक 55 फीसदी मतदान 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में अपराह्न चार बजे तक  55 फीसदी मतदान उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के चौथे चरण का चुनाव जारी।

लखनऊ (भाषा)। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के लिए 12 जिलों की 53 सीटों के लिए आज अपराह्न चार बजे तक औसतन करीब 55 प्रतिशत मतदान हुआ।

निर्वाचन आयोग के सूत्रों के अनुसार बुंदेलखण्ड के जालौन, झांसी, ललितपुर, महोबा, बांदा, हमीरपुर, चित्रकूट और फतेहपुर के साथ-साथ रायबरेली, प्रतापगढ़, कौशाम्बी और इलाहाबाद की 53 सीटों के लिए मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ। अपराह्न चार बजे तक लगभग 55 प्रतिशत मतदान हो चुका है। उन्होंने बताया कि शाम पांच बजे तक जो मतदाता मतदान केंद्र के अंदर पहुंच जाएंगे, उन्हें वोट डालने दिया जाएगा।

इससे पूर्व 12 जिलों की 53 सीटों के लिए दोपहर एक बजे तक 39 प्रतिशत मतदान हुआ।

खुशगवार मौसम के बीच सुबह से ही मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की कतारें नजर आ रही हैं. मतदान शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा है और अभी तक कहीं से किसी अप्रिय घटना की खबर नहीं है।

चुनाव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

चौथे चरण के चुनाव में 61 महिलाओं समेत कुल 680 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला होगा। चौथे चरण में 84 हजार महिला और 1032 अन्य समेत एक करोड़ 84 लाख मतदाता वोट डाल सकेंगे। इस बार 18 से 19 साल के तीन लाख 26 हजार 473 मतदाता भी मतदान कर सकेंगे।

इस चरण में इलाहाबाद उत्तरी सीट पर सबसे ज्यादा 26 प्रत्याशी मैदान में हैं, वहीं खागा (फतेहपुर), मंझनपुर (कौशाम्बी) और कुंडा (प्रतापगढ़) में सबसे कम छह-छह उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

चौथे चरण के मतदान के लिए कुल 12 हजार 492 मतदान केंद्र और 19 हजार 487 मतदेय स्थल बनाये गए हैं। मतदान की व्यवस्थाओं पर नजर रखने के लिए 51 पर्यवेक्षक, आठ पुलिस पर्यवेक्षक, 2090 सूक्ष्म पर्यवेक्षक, 1643 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 222 जोनल मजिस्ट्रेट तथा 318 स्टैटिक मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं।

इस चरण के लिए 3609 मतदान केंद्रों को संवेदनशील की श्रेणी में रखा गया है, मतदान को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए पर्याप्त संख्या में केंद्रीय बल तथा पुलिस बल तैनात किया गया है। वर्ष 2012 में इन 53 सीटों पर हुए चुनाव में सपा को 24 सीटों पर सफलता प्राप्त हुई थी। इसके अलावा बसपा ने 15, कांग्रेस ने छह, भाजपा ने पांच तथा पीस पार्टी ने तीन सीटें जीती थीं।

Share it
Top