कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा, अभी बात बिगड़ी नहीं है, सीटों की संख्या का मामला सुलटा लेंगे 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   20 Jan 2017 5:26 PM GMT

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा,  अभी बात बिगड़ी नहीं है, सीटों की संख्या का मामला सुलटा लेंगे कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर।

लखनऊ (भाषा)। समाजवादी पार्टी से गठबंधन पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा कि अभी बात बिगड़ी नहीं है। गठबंधन पर चर्चा चल रही है, दोनों ही पार्टी के लोग बात कर रहे हैं, जल्द ही निर्णय हो जाएगा, मेरी समझ से, अभी तक कोई अवरोध तो नहीं है। चुनाव एक लक्ष्य को लेकर लड़े जाते हैं। बाकी रही सीटों की संख्या का मामला तो हम देख लेंगे।''

आज समाजवादी पार्टी ने अपने 191 प्रत्याशियों की सूची जारी करने के बाद कांग्रेस से चुनावी तालमेल के बारे में कहा कि कांग्रेस से अभी तक कोई सकरात्मक बात नहीं हुई है। और अगर कांग्रेस को सपा के संग मिलकर चुनाव लड़ना है तो हम उन्हें उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2017 के लिए सिर्फ 85 सीटें ही दे सकते हैं। कांग्रेस अगर भाजपा को परास्त होते देखना चाहती है तो उसे सपा के फार्मूले को मानना होगा।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा कि कांग्रेस और सपा एक ही सौहार्द के लोग हैं। इतना जरूर कह सकता हूं कि सभी को साथ चलना चाहिए।

मालूम हो कि सपा ने आज घोषित सूची में गंगोह, शामली, स्वार, विलासपुर, हापुड, स्याना, खुर्जा, मथुरा तथा किदवई नगर सीटों पर भी अपने प्रत्याशी उतारे हैं। वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में ये सभी सीटें कांग्रेस ने जीती थीं।

सपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष किरणमय नन्दा ने कहा कि पहले, दूसरे और तीसरे चरण के चुनाव में कुल 208 सीटों पर चुनाव होना है और सपा ने आज 191 सीटों पर ही अपने प्रत्याशी घोषित किए हैं, इस तरह कांग्रेस के लिए 17 सीटें छोड़ी गई हैं। मालूम हो कि नन्दा ने कल कहा था कि सपा करीब 300 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

इस सवाल पर कि क्या कांग्रेस के साथ सपा का गठबंधन मुश्किल हो गया है, नन्दा ने कहा कि यह कहना जल्दबाजी होगा। सपा अब भी कांग्रेस से तालमेल करना चाहती है, लेकिन अपनी शर्तों पर। चुनाव बिल्कुल नजदीक है, ऐसे में सपा और इंतजार नहीं कर सकती।

उन्होंने स्पष्ट किया कि कांग्रेस के साथ गठबंधन होने पर सपा अमेठी और लखनऊ छावनी सीट अपने पास ही रखेगी। उसके एवज में वह अपनी एक-एक जीती हुई सीट दे देगी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top