उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के लिए मनोज सिन्हा का नाम सोशल मीडिया में सबसे आगे

उत्तर प्रदेश के  मुख्यमंत्री के लिए मनोज सिन्हा का नाम सोशल मीडिया में सबसे आगेमनोज सिन्हा के रूप में यूपी का सीएम लगभग तय।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में जोरदार जीत के बाद पार्टी के बीच मुख्यमंत्री का नाम तय करने को लेकर काफी मंथन हुआ लेकिन अब यह मंथन लगभग समाप्त हो चुका है। खबर है कि काशी में पत्रकारों से बात करते हुए खुद मनोज सिन्हा ने कहा कि अगर उन्हें यूपी की जिम्मेदारी मिलती है तो उसे जिम्मेदारी से निभाएंगे।

मनोज सिन्हा आज सुबह काशी के विश्वनाथ मंदिर, काल भैरव और संकट मोचन मंदिर में पूजा अर्चना करने पहुंचे थे। हालांकि इस दौरान उन्होंने ये भी कहा उन्हें दिल्ली में जो जिम्मेदारी मिली है उससे वो खुश हैं। इससे पहले कल सिन्हा ने अपने नाम की अटकलों को खारिज किया था। वहीं बीजेपी के वरिष्ठ नेता वैंकेया नायडु ने कहा कि मनोज सिन्हा के समेत दूसरे नामों पर मीडिया में अटकल बाजी हो रही है और मुख्यमंत्री कौन होगा ये आज शाम लखनऊ में ही तय होगा।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह जल्द ही यूपी में सीएम के रूप में मनोज सिन्हा के नाम का एलान कर सकते हैं। जहाँ एक तरफ मनोज सिन्हा का नाम सबसे ऊपर है तो वहीँ राजनाथ सिंह, केशव प्रसाद मौर्य एवं योगी आदित्य नाथ के नाम की भी लोग कयास लगाये बैठे थे। आपको बता दें मनोज सिन्हा बीएचयू छात्र संघ के अध्यक्ष रह चुके हैं।

चुनाव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

रेलवे में राज्य मंत्री के रूप में उनके काम की सराहना करते हुए 2016 में उन्हें टेलीकॉम मिनिस्टर का पद दे दिया गया। आज विधायक दल की बैठक होगी, जिसमें प्रधानमंत्री मोदी का आना भी लगभग प्रस्तावित हैं। हालांकि बार बार पूछे जाने के बाद भी मनोज सिन्हा ने मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार की रेस में अपना नाम शामिल किए जाने से इंकार किया था।

लेकिन अब उनके नाम को लेकर खुद प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुहर लगा दी है। राजनाथ सिंह पहले ही इस पद पर बैठने के लिए मना कर चुके हैं। बताते चले कि नए मुख्यमंत्री अपने मंत्रिमंडल सदस्यों के साथ रविवार को कांशीराम स्मृति उपवन में दोपहर सवा दो बजे शपथ लेंगे।

जानकारी के मुताबिक पहले शपथ ग्रहण का समय साढ़े चार बजे तय किया गया था लेकिन किन्ही कारणोंवश बाद में समय बदल कर सवा दो बजे कर दिया गया। इस शपथ ग्रहण समारोह में भारी संख्या में लोगो के आने के अनुमान के चलते शपथ ग्रहण समारोह को कांशीराम स्मृति उपवन में रखा गया हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top