गठबंधन के लिए मुलायम सिंह यादव फोन पर रो रहे थे और मदद की गुहार लगा रहे थे : जयंत चौधरी 

गठबंधन के लिए मुलायम सिंह यादव फोन पर रो रहे थे और मदद की गुहार लगा रहे थे : जयंत चौधरी राष्ट्रीय लोकदल के महासचिव एवं मथुरा के पूर्व सांसद जयंत चौधरी।

मथुरा (भाषा)। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस गठबंधन में शामिल नहीं किए जाने की टीस को उजागर करते हुए राष्ट्रीय लोकदल के महासचिव एवं मथुरा के पूर्व सांसद जयंत चौधरी ने कहा कि वे पहले गठबंधन में शामिल होना चाहते थे क्योंकि सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने फोन पर इसके लिए रोते हुए गुहार लगाई थी।

उन्होंने मथुरा विधानसभा क्षेत्र से रालोद के उम्मीदवार अशोक अग्रवाल के पक्ष में चुनाव प्रचार करते हुए कहा, ‘‘सपा-कांग्रेस गठबंधन ने हम पर लाठी मारी है लेकिन रालोद कमजोर नहीं हुआ है, बल्कि हम ज्यादा मजबूत हुए हैं और लाठी तोड़ देंगे।''

चौधरी ने कहा, ‘‘अगर आपका दोस्त रोकर मदद मांगे तो क्या आप इंकार कर देंगे? चौधरी साहब (अजित सिंह) ने कुछ भी गलत नहीं किया। उन्होंने दो मिनट में निर्णय किया (सपा के साथ गठबंधन का) क्योंकि मुलायम सिंह यादव फोन पर रो रहे थे और मदद की गुहार लगा रहे थे।''

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर हमला करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘600 मीटर मेट्रो चलाना और उसका पूरा प्रचार करना विकास नहीं कहलाता है।'' उन्होंने कहा कि अपने परिवार के लोगों से लड़ना अखिलेश की आदत हो गई है।

Share it
Top