मेरठ में ईवीएम सुरक्षा में लगे लंगूर मालिक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   17 Feb 2017 1:35 PM GMT

मेरठ में ईवीएम  सुरक्षा में लगे लंगूर मालिक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत प्रतीकात्मक फोटो।

मेरठ (भाषा)। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में ईवीएम की सुरक्षा में लगे लंगूर मालिक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। पुलिस ने घटना को हादसा बताया है जबकि मृतक के परिजन ने हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस में तहरीर दी है। परतापुर थाने के अधिकारियों के अनुसार मृतक का नाम किशनलाल (60) है और वह थाना मेडिकल क्षेत्र के रहने वाले थे।

उन्होंने कहा कि किशनलाल को उसके दो लंगूरों के साथ कताई मिल में विधानसभा चुनावों के बाद रखी गई ईवीएम की सुरक्षा के लिए रखा गया था। मिल परिसर में कल जब किशनलाल नहीं मिले तो उसकी तलाश की गई। पुलिस के बताया कि घंटों की तलाश के बाद कताई मिल में ही गटर के अंदर से किशनलाल का शव नग्न अवस्था में मिला।

पुलिस ने प्रारंभिक जांच के आधार पर घटना को हादसा बताया है वहीं मृतक के परिजन ने हत्या की आशंका जताते हुए अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ तहरीर दी है। बहरहाल, पुलिस घटना की जांच में जुटी है।

गौरतलब है कि मेरठ में 11 फरवरी को विधानसभा चुनाव हुए थे। चुनाव बाद सभी ईवीएम को परतापुर स्थित कताई मिल में बनाए गए स्ट्रांग कक्ष में सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में रखा गया है। यहां बंदर इन सीसीटीवी कैमरों को नुकसान पहुंचाते हैं, ऐसे में लंगूर मालिक किशनलाल को उसके दो लंगूरों के साथ यहां रखा गया था।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top