मोदी ने बिजनौर में अखिलेश-राहुल पर साधा निशाना- कहा समाजवादी पार्टी नहीं कुनबा, दो कुनबों ने मिलकर यूपी को लूटा है

मोदी ने बिजनौर में अखिलेश-राहुल पर साधा निशाना- कहा समाजवादी पार्टी नहीं कुनबा, दो कुनबों ने मिलकर यूपी को लूटा हैबिजनौर रैली में पीएम मोदी।

बिजनौर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के गठबंधन को दलों का नहीं कुनबों का गठबंधन बता कर शुक्रवार को प्रहार किया है। उन्होंने कहा कि इनमें से एक कुनबे ने देश और दूसरे ने प्रदेश को लूटा है। अब अगर ये दोनों मिल कर सत्ता में आए गए तब आप सोचिये कि प्रदेश का क्या हाल करेंगे। यादव सिंह के सहारे पीएम ने सपा सरकार को भ्रष्टाचार के मामले में घेरा तो दूसरी ओर गन्ना किसानों के भुगतान न होने को लेकर उन्होंने कहा कि ये सरकार किसान विरोधी है।

बिजनौर के वर्धमान काॅलेज ग्राउंड में करीब एक लाख लोगों को संबोधित करते हुए नरेंद्र मोदी के निशाने पर मुख्य तौर पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और राहुल गांधी रहे। उन्होंने कहा कि जो महीना पहले लड़ाई लड़ते थे। 27 साल यूपी बेहाल है, कहते थे। जब देखा कि चारों ओर कमल है तब आ गले लग जा कह रहे हैं। बचाओ बचाओ चिल्ला रहे हैं। अखिलेश जी पढ़े लिखे नौजावन है। सीखने का प्रयास कर रहा है। मुझे आशा थी कि ये पांच दस साल में तैयार अच्छा राजनेता तैयार होगा। दूसरी ओर कांग्रेस के नेता बचकाना हरकतों से कौन वाकिफ नहीं है। ऐसी ऐसी हरकतें करते थे। अखिलेश जी आपने उनको गले लगा लिया। अब मुझे अखिलेश जी की समझदारी पर शक हुआ। बड़ी बड़ी से गलती हो सकती है, कोई ऐसी गलती नहीं कर सकता है। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे इन दोनों कुनबों से बच कर रहें।

भारी भीड़ देख हुए गदगद

यहां भारी भीड़ देख कर नरेंद्र मोदी गदगद हो गए। उन्होंने कहा कि मैं आपसे माफी मांग रहा हूँ। क्योंकि यहाँ लोगों ने सोचा था कि इस मैदान भर लोग ही आएंगे। मगर मैदान के बाहर भी लोग हैं। आपको असुविधा हुई मैं क्षमा माँगता हूँ। हजारों लोग जो देख भी नहीं पा रहे हैं। आप आये मैं आपका आभार व्यक्त करता हूँ।

भाजपा के लोगों को जेल भेजा गया


मोदी ने कहा कि चुनाव बहुत देखे हैं। राजनैतिक दल तैयारियां भी करते हैं। मैंने हर कोने में देखा। मगर एक नयी चीज देखी। ये तैयारी यहाँ मुख्यमंत्री कर रहे थे। समाजवादी पार्टी ने ऐसे लोगों सूची बनवाई। जो मजबूत थे। पिछले एक साल में भाजपा के लोगों को जेल में ठूस दिया। अखिलेश जी कान खोल कर सुन लो। 11 मार्च को नतीजा आपका कच्चा चिट्ठा खुलेगा। सारा हिसाब होगा। जांच बैठाई जायेगी। आप ऐसे लोगों को बचा नहीं पाओगे। आप कानून का दुरुपयोग करते हो। जिसका नतीजा है जहाँ जहाँ गया हूँ। जनसैलाब देखा। पूरा केसरिया सागर उमड़ पड़ा है। आखिर सरकार किसके लिए होती है। गरीब और ईमानदारों के लिए होती है। जिसका राजनीति से कोई लेना देना नहीं है। क्या कोई बताएगा सज्जनों और ईमानदारों की रक्षा करने वाली है क्या। जो सरकार ईमानदारों का भला न कर पाये। उसको बने रहने का कोई हक नहीं है।

एक गाँव को दे दी पूरी सत्ता

उन्होंने कहा कि एक गाँव ऐसा है जहाँ से एमपी और एमएलए हैं। इसका क्या वजह है। क्या आपमें योग्यता नहीं है। जाति का भी भला नहीं किया है। नोएडा के यादव सिंह इंजीनियर नहीं था। वह करप्शन का सबसे बड़ा एजेंट था। मायावती जी की कृपा थी। अखिलेश ने उन बदनामों को उसी पद पर बैठा दिया। हमने जांच शुरू करवाया। सरकार उसको बचाने के लिए सुप्रीम कोर्ट गए। मगर वो जेल में है। इस सरकार के सबसे जयादा मौज लेने वाले नेता को गलतबयानी की वजह से कान पकड़ कर माफी मांगनी पड़ी। एक गाँव ऐसा है जहाँ से एमपी और एमएलए हैं। इसका क्या वजह है। क्या आपमें योग्यता नहीं है। जाति का भी भला नहीं किया है। नोएडा के यादव सिंह इंजीनियर नहीं था। वह करप्शन का सबसे बड़ा एजेंट था। मायावती जी की कृपा थी। अखिलेश ने उन बदनामों को उसी पद पर बैठा दिया। हमने जांच शुरू करवाया। सरकार उसको बचाने के लिए सुप्रीम कोर्ट गए, मगर वो जेल में है।

रैली में उमड़ी भीड़।

राहुल गांधी पर कसा तंज
पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के एक नेता की हरकतें बचकाना हैं। पार्टी के नेता भी उनकी बात नहीं सुनते। पीएम ने तंज कसते हुए कहा कि गूगल पर सर्च करो। इतने चुटकुले किसी और नेता पर नहीं मिलेंगे जितने कांग्रेस के एक नेता पर हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top