पति के बताए प्रत्याशी को वोट देती हैं अधिकतर महिलाएं, नहीं जानती प्रत्याशी का नाम

पति के बताए प्रत्याशी को वोट देती हैं अधिकतर महिलाएं, नहीं जानती प्रत्याशी का नाममहिलाएं मतदान के लिए जागरूक तो हो रही हैं, लेकिन उन्हें ये ही नहीं पाता की उनका वोट किसे दिया जा रहा, उन्हें बस चुनाव चिन्ह पता होता है।

लखनऊ। महिलाएं मतदान के लिए जागरूक तो हो रही हैं, लेकिन उन्हें ये ही नहीं पाता की उनका वोट किसे दिया जा रहा, उन्हें बस चुनाव चिन्ह पता होता है।

“मैंने वही बटन दबाई जो मेरे पति ने मुझसे कहा था। सरकार चाहे जो हो विकास होना चाहिए।” ऐसा कहती हैं, सरोजनी नगर विधान सभा की पिपरसंड मतदान केंद्र में वोट देने आई सुशीला यादव (45 वर्ष)।

सुशीला देवी ही नहीं बल्कि कई ऐसी महिलाएं है जो बिना किसी की जानकारी के वोट देती है। “कल रात को मेरे पिता ने मुझसे कहा कि तुमको इस चिंह पर वोट डालना है। चुनाव से ज्यादा मतलब न रखते मैंने अपने पिता के कहे हुए निशान पर वोट डाल दिया।” ऐसा बताती हैं, आईटीआई कॉलेज में वोट डालने आई मोनिका सिंह(22 वर्ष)।

12 जिलों के 69 विधानसभा क्षेत्र में कुल दो करोड़ 41 लाख 67 हजार 407 मतदाताओं में से एक करोड़ 10 लाख 27 हजार 390 महिला मतदाता हैं।

महिलाएं वोट देने के लिए लोग जागरुक तो हो रहीं हैं, लेकिन जिसको वोट दे रहे हैं उनको देना क्योंकि जरुरी है इसकी कोई भी जानकारी नहीं है। चांदगंज में रहने वाली रेखा कुमारी (21 वर्ष) से प्रत्याशियों के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया, “मेरे घर वालों ने जिस चिंह पर कहा था उस पर मैंने बटन दबाया। राजनीति में मुझे कोई लेना देना नहीं है।”

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top