दिग्गजों ने मुलायम को माना थर्ड फ्रंट का नेता

Rishi MishraRishi Mishra   5 Nov 2016 6:44 PM GMT

दिग्गजों ने मुलायम को माना थर्ड फ्रंट का नेतासपा के रजत जयंती समारोह में शामिल हुए कई बड़े नेता।

लखनऊ। जनेश्वर मिश्र पार्क में शनिवार को समाजवादी पार्टी के रजत जयंती समारोह में भले ही सपा की गुटबाजी सामने आती रही, मगर बातें एकता की हुईं। विधानसभा चुनाव 2017 के रास्ते से होते हुए लोकसभा चुनाव 2019 के लिए मुलायम सिंह यादव को थर्ड फ्रंट का सर्वमान्य नेता जनेश्वर मिश्र पार्क में चुन कर सामने प्रस्तुत कर दिया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा, राजद के नेता लालू प्रसाद यादव और जनता दल युनाइटेड के नेता शरद यादव, राष्ट्रीय लोकदल के चौधरी अजीत सिंह और इंडियन नेशनल लोकदल के नेता अभय चौटाला ने मुलायम सिंह यादव को नेता बता कर सभी को 2019 में गैरभाजपा गैरकांग्रेस मोर्चा खोलने की अपील की। लालू यादव ने तो यहां तक एलान कर दिया कि राष्ट्रीय जनता दल यूपी में एक भी सीट पर चुनाव नहीं लड़ेगा, वह खुद सपा के लिए चुनाव प्रचार करेंगे।

मुलायम को ही आगे आना पड़ेगा

रजत जयंती समारोह में पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने शुरूआत की। उन्होंने कहा कि सांप्रदायिक ताकतें देश में सिर उठा रही हैं। जिसके लिए मुलायम को ही आगे आना पड़ेगा। लालू प्रसाद यादव ने कहा कि मुलायम सिंह यादव पर बहुत जिम्मेदारी है। हम सब बैठे हुए हैं। समान विचारधारा वाले एक हो जाएं। ऐसे ही गठबंधन बनता है। नेता जी सबको पहचानते हैं। फिर बढ़िया सारा परिवार एक है। कौन लड़ रहा है। सब लड़ाई मिटा दी गयी है।

गठबंधन के लिए सारे स्वार्थ छोड़ने होंगे

चौधरी अजीत सिंह ने कहा कि गठबंधन 2019 चुनाव के लिए हो। चुनावी गठबंधन के लिए बड़ा दिल चाहिए। सारे स्वार्थ छोड़ने होंगे। शरद यादव ने कहा कि मुलायम सिंह में ताकत है। अखिलेश के कन्धों पर जिम्मेदारी ही मुलायम के मन के अनुसार है। इनेलो के नेता अभय चौटाला भी मुलायम सिंह यादव को अपने नेता मानने के लिए तैयार हो गए। उन्होंने कहा कि पहले विधानसभा चुनाव और बाद में 2019 के विधानसभा चुनाव के बारे में सोचना पड़ेगा। जिसमें सबसे आगे मुलायम सिंह यादव ही खड़े होंगे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top