रामगोपाल यादव को राज्यसभा में सपा के नेता पद से अमान्य करें सभापति : मुलायम

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   10 Jan 2017 12:55 PM GMT

रामगोपाल यादव को राज्यसभा में सपा के नेता पद से अमान्य करें सभापति : मुलायमसमाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव।

नई दिल्ली (भाषा)। समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह यादव ने राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी को पत्र लिखकर उन्हें अखिलेश यादव के करीबी रामगोपाल यादव को पार्टी से निष्कासित किए जाने के मद्देनजर उच्च सदन में पार्टी के नेता पद से हटाए जाने की मांग की।

मुलायम ने सभापति हामिद अंसारी से आग्रह किया कि रामगोपाल को पार्टी से निष्कासित किए जाने को ध्यान में रखते हुए उन्हें पिछली सीट पर स्थानांतरित किया जाए। अभी रामगोपाल सदन में अगली कतार में बसपा सुप्रीमो मायावती के पास की सीट पर बैठते हैं।

राज्यसभा के सभापति के ओएसडी गुरदीप सिंह सप्पल ने ट्वीट किया, ‘‘ राज्यसभा के सभापति को मुलायम सिंह यादव का पत्र मिला है जिसमें रामगोपाल यादव को सपा से निष्कासित किए जाने की सूचना दी गई है और इसकी उपयुक्त जांचपरख की जाएगी।''

पार्टी सूत्रों ने बताया कि पत्र में राज्यसभा सचिवालय को बताया गया है कि मुलायत सिंह के चचेरे भाई रामगोपाल को 30 दिसंबर 2016 को छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया गया और अब वे ऊपरी सदन में सपा संसदीय पार्टी के नेता नहीं रहे हालांकि इस पत्र में यह नहीं बताया गया है कि मुलायम सिंह यादव राज्यसभा में किसे पार्टी का नेता नियुक्त करेंगे।

अखिलेश यादव के करीबी माने जाने वाले रामगोपाल को मुलायम समाजवादी पार्टी और परिवार में कलह की मुख्य वजह मानते हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top