हिंदू हो या मुसलमान, सबका हो दाह संस्कारः साक्षी महाराज

हिंदू हो या मुसलमान, सबका हो दाह संस्कारः साक्षी महाराजसाक्षी महाराज।

नई दिल्ली। यूपी में विधानसभा चुनाव के दो और चरण शेष बचे हैं लेकिन बयानबाजी चरम पर है। अपनी पार्टी को जीताने के लिए बड़े नेता हर तरह के प्रयास कर रहे हैं। नेताओं ने अपने बयान में श्मशान, कब्रिस्तान, गधे और कबूतरों को तक नहीं छोड़ा। इसी कड़ी में भाजपा के बड़े नेता साक्षी महाराज ने भी एक विवादित बयान दिया है।

साक्षी महाराज ने कहा है कि चाहे कब्रिस्तान हो या श्मशान सभी का दाह संस्कार होना चाहिए। किसी को गढ़ने की आवश्यकता नहीं है। साक्षी महाराज ने अपने बयान में आगे कहा है कि देश में 2-2.5 करोड़ साधु हैं सब समाधि लेंगे और 20 करोड़ मुसलमान है सबको कब्रिस्तान चाहिए, हिंदुस्तान में इतनी जमीन कहां मिलेगी। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी का समर्थन करते हुए कहा कि मैं पीएम की बात से सहमत हूं। कब्रिस्तान नहीं बनना चाहिए, अगर कब्रिस्तानों के लिए देश की सारी जमीन चली जाएगी तो किसान खेती कहां करेंगे। दुनिया के अन्य देशों में दफनाने की बजाय शवों को जलाया जाता है।

पीएम नरेंद्र मोदी ने यूपी में एक चुनावी रेली के दौरान धर्म के आधार पर भेदभाव ना करने की मांग करते हुए कहा था कि अगर गांव में कब्रिस्तान को जमीन मिलती है तो श्मशान को भी मिलना चाहिए, वैसे ही अगर रमजान में बिजली मिलती है तो दिवाली पर भी मिलनी चाहिए। उनके इस बयान के बाद से ही विपक्षी दल हमलावर हो गए हैं और इस बीच अब साक्षी महाराज ने ऐसा बयान दे दिया है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top