बीजेपी में इतने नामी-गिरामी गुंडे हैं, जिसकी शुरुआत गुजरात से होती है: मायावती

बीजेपी में इतने नामी-गिरामी गुंडे हैं, जिसकी शुरुआत गुजरात से होती है: मायावतीबसपा सुप्रीमो मायावती।                                                                                             साभार: गूगल

लखनऊ। बसपा सुप्रीमो मायावती ने सोमवार को विपक्षी पार्टियों पर जमकर हमला बोला। मायावती ने राजधानी में प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि समाजवादी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी दोनों में ही गुंडों की भरमार है। भाजपा में तो इतने नामी-गिरामी गुंडे हैं, जिसकी शुरुआत गुजरात से होती है। उन्होंने आगे कहा कि इनका क्या इतिहास है, यह सब जनता को मालूम है। बता दें कि हाल में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा था कि सपा-बसपा में गुंडों की भरमार है।

परिवर्तन यात्रा का नाटक नहीं करना पड़ता

मायावती ने कहा कि बीजेपी ने अगर जनता से किये वादे का एक तिहाई भी काम किया होता तो आज उनको परिवर्तन यात्रा का नाटक नहीं करना पड़ता। उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार गरीबों, किसानों और दलितों की विरोधी सरकार है। गन्ना किसानों को एक भी पैसा न ही मोदी सरकार ने दिया है और न ही सपा सरकार ने। उन्होंने कहा कि भाजपा केवल पूंजीपतियों की सरकार है। इसलिए जनता भाजपा के बहकावे में न आए और सावधान रहें।

एक-दूसरे को हराएंगे चाचा-भतीजा

वहीं, मायावती ने सपा पर निशाना साधते हुए कहा कि जनता को सपा की अंदरुनी कलह के बारे में पता चल चुका है और अब चाचा-भतीजा ही एक-दूसरे को हराएंगे। उन्होंने कहा कि अगर सपा ने प्रदेश में कानून व्यवस्था और विकास पर काम किया होता तो आज विकास रथ यात्रा निकालने की जरूरत नहीं पड़ती और अब विकास रथ यात्रा निकालकर खोखली राजनीति कर रहे हैं। वहीं, अगर समाजवादी पार्टी गठबंधन कर लेती है तो इसका यह मतलब होगा कि सपा ने पहले से ही हार मान ली है और हारे हुए लोगों को जनता स्वीकार नहीं करती है।

लोगों को रोजी-रोटी, बिजली पानी चाहिए

मायावती ने अमित शाह के उस बयान पर तंज कसा जिसमें अमित शाह ने कहा था कि अगर खनन में भष्ट्राचार न होता तो आज हर बुंदेलखंड के निवासी के पास एक कार होती। मायावती ने कहा कि सिर्फ बुंदेलखंड में ही नहीं, बल्कि पूरे यूपी में लोगों को कार नहीं, बल्कि रोजी-रोटी, बिजली-पानी चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर भाजपा ने काम किया होता तो आज परिवर्तन यात्रा निकालने की जरूरत नहीं पड़ती।

Share it
Top