पुल न होने से 5 किलोमीटर का रास्ता हो जाता है 15 किलोमीटर, नाराज ग्रामीणों ने नहीं किया मतदान

पुल न होने से 5 किलोमीटर का रास्ता हो जाता है 15 किलोमीटर, नाराज ग्रामीणों ने नहीं किया मतदानबेहता नाले पर विरोध प्रदर्शन करते ग्रामीण मतदाता।

सुरेन्द्र कुमार

मलिहाबाद/लखनऊ। मलिहाबाद विधानसभा.168 क्षेत्र में अगर कुछ छुटपुट घटनाओं को छोड़ दिया जाए तो मतदान शांतिपूर्ण संपन्न हुआ। कई जगह मशीन खराब होने की वजी से मतदान देर से शुरू हो सका।

नई बस्ती धनेवा पोलिंग बूथ पर मतदान लगभग एक घंटे की देरी से शुरू हुआ। टेक्नीशियनों के पहुंचने के बाद ही यहां मतदान शुरू हो सका। इस विधानसभा क्षेत्र का ग्राम बिराहिमपुर कल काफी चर्चित रहा। यहां के मतदाताओं ने बेहता नाले पर पुल बनवाने की मांग पूरी न होन के कारण मतदान का बहिष्कार किया। दोपहर तक मात्र 48 मतदाताओं ने ही यहां मताधिकार का प्रयोग किया।

ग्रामीणों को मदतान के लिए मनाने पहुंचीं उप जिलाधिकारी नीलम यादव, साथ में नायाब तहसीलदार आरआर रमन।

इस पोलिंग बूथ पर कुल 710 मतदाता थे। इसके बाद मतदान का पूर्ण बहिष्कार कर ग्रामीण बेहता नाले के पास जमा हो गए। दोपहर 3 बजे मौके पर पहुंचीं उप जिलाधिकारी नीलम यादव ने मतदाताओं को समझाने का प्रयास किया। लेकिन व नहीं मानें। इस पर मौके पर मौजूद नायब तहसीलदार आरआर रमन को खरी खोटी सुनाते हुए कहा कि आज तक इस समस्या से उन्हें क्यों अवगत नहीं कराया गया।

यहां के सियाराम (75 वर्ष), मधई (70 वर्ष), मथुरा (40 वर्ष), प्यारेलाल (65 वर्ष), राधेलाल (50 वर्ष) ने बताया कि वह लोग दो दशक से पुल बनवाने की मांग कर रहे हैं। चुनाव के समय जनप्रतिनिध पुल बनवाने का वादा करते हैं लकिन चुनाव खत्म होते ही वे अपना वादा भूल जाते हैं। यहां के निवासियों को लखनऊ हरदोई राजमार्ग पर जाने के लिए करीब 15 किलोमीटर का चक्कर लगाकर जाना पड़ता है। अगर यहां पुल बन जाए तो इस मार्ग पर जाने के लिए 5 किलोमीटर का चक्कर लगाना पड़ेगा।

इसी तरह ग्राम भदेसरमऊ में विकास कार्य न होने से नाराज स्थानीय मतदाताओं ने चुनाव का बहिष्कार किया। लोगों ने आरोप लगाए कि हमारी मांगे पूरी नहीं होती। हमारा ग्राम विकास से कोसों दूर है। ये खबर सुनते ही भाजपा प्रत्याशी जयदेवी कौशल के पुत्र प्रभात किशोर उर्फ जैकी मौका स्थल पी पहुंचे और मतदाताओं को समझाया। जिसके बाद ग्रामीण मतदान करने को राजी हुए। विधानसभ के अन्य पोलिंग बूथों पर सुबह तो अच्छी भीड़ थी लेकिन शाम होते.होते भीड़ छंटने लगी। लेकिन बूथों पर मतदाताओं का आना.जाना लगा रहा जिस कारण इस विधानसभा क्षेत्र में 65 प्रतिशत मतदान हुआ।

Share it
Top