बुंदेलखण्ड की बदहाली के लिये जिम्मेदार सपा, बसपा और कांग्रेस, सब एक ही थैली के चट्टे-बट्टे: मोदी

बुंदेलखण्ड की बदहाली के लिये जिम्मेदार सपा, बसपा और कांग्रेस, सब एक ही थैली के चट्टे-बट्टे: मोदीप्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी।

उरई (भाषा)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज सपा, बसपा और कांग्रेस को एक ही थैली के ‘चट्टे बट्टे' बताते हुए बुंदेलखण्ड की बदहाली के लिये इन्हीं तीनों को जिम्मेदार ठहराया।

मोदी ने बुंदेलखण्ड क्षेत्र में आने वाले उरई में आयोजित चुनावी सभा में कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस की सरकार में पूरे बुंदेलखण्ड में सब कुछ तबाह हो गया है। बुंदेलखण्ड के लिये उत्तर प्रदेश विधानसभा का चुनाव एक बहुत बड़ा फैसला है। उसे तय करना है कि सपा, बसपा के चक्कर से निकलना है कि नहीं।

उन्होंने कहा कि परमात्मा ने बुंदेलखण्ड को बाकी सब कुछ दिया लेकिन जनता ने प्रदेश में ऐसी सरकारें बनायी हैं, जिन्होंने इस क्षेत्र को तबाह कर दिया है। सपा, बसपा, कांग्रेस सभी एक ही सिक्के के अलग-अलग पहलू हैं, वे एक ही थैली के चट्टे-बट्टे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनका वादा है कि जब उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी तो मुख्यमंत्री कार्यालय के अधीन एक स्वतंत्र बुंदेलखण्ड विकास बोर्ड बनाया जाएगा। साथ ही क्षेत्र में फलफूल रहे अवैध खनन पर सैटेलाइट के जरिये निगरानी करके ना सिर्फ रोक लगायी जाएगी बल्कि इस कारोबार में शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

उन्होंने बसपा पर निशाना साधते हुए कहा कि अब तो बसपा का नाम ही बदल गया है। अब वह बहुजन समाज पार्टी नहीं बल्कि ‘बहनजी सम्पत्ति पार्टी' बन गयी है। बुंदेलखण्ड के लोग यह बताएं कि जो अपने लिये धन जमा करते हैं, वे आपकी समस्या का कभी समाधान करेंगे क्या।

मोदी ने कहा कि बुंदेलखण्ड ने सपा, बसपा, कांग्रेस को देख-परख लिया है। वे पीने का पानी तक नहीं दिला पाए, क्या उनके भरोसे आगे भी आपकी गाडी चलेगी। बुंदेलखण्डवासियों से आग्रह है कि 70 साल में बुंदेलखण्ड की जो बरबादी हुई है, उसे पांच साल में ठीक करना है, बुंदेलखण्ड को गड्ढे से बाहर निकालना है तो दिल्ली के साथ-साथ प्रदेश में भी ‘भाजपा का इंजन’ लगाना होगा।

प्रधानमंत्री ने मायावती पर हमले जारी रखते हुए कहा ‘‘नोटबंदी के बाद जब रातों रात बैंकों में दनादन पैसे जमा होने लगे तो वह (मायावती) चिल्लाने लगे कि चुनाव आता है, तभी मेरे भाई का हिसाब क्यों खोला जाता है। बसपा ने 100 करोड़ रुपये बैंक में जमा किये, तो उसकी चर्चा क्यों हो रही है। अरे बहनजी, आपने नोटबंदी के बाद जमा किया, इसलिये चर्चा हो रही है।''

मोदी ने अपनी ‘स्कैम’ सम्बन्धी टिप्पणी का एक बार फिर जिक्र किया कि भाजपा की लडाई स्कैम के खिलाफ है। अंग्रेजी के शब्द स्कैम में चार अक्षर होते हैं। एस- समाजवादी, सी-कांग्रेस, ए-अखिलेश, एम-मायावती। इस देश में घोटालों में भी ईमानदारी और सेवा का भाव देखने वाले एक नेता को यह भी समझ नहीं आया। उन्होंने कहा कि स्कैम सेवा है। इस चुनाव में जनता के पास स्कैम को प्रदेश से पूरी तरह निकालने का मौका है।

मोदी ने दावा किया कि बुंदेलखण्ड को भी बदहाली के दौर से निकालकर विकास के मामले में अव्वल बनाया जा सकता है। उन्होंने गुजरात के कच्छ का उदाहरण देते हुए कहा, ‘‘गुजरात में कच्छ नामक जिला है, वहां बहुत बडा रेगिस्तान है। वर्ष 2001 में वहां भूकम्प आने के बाद हमने काम किया। कच्छ आज देश के सबसे तेज गति से जाने वाले जिलों में शामिल है। अगर इरादा नेक हो, विकास का विजन साफ हो और संकल्प शक्ति हो, तो कितने भी पिछडे क्षेत्र को विकसित किया जा सकता है।''

Share it
Top