तीसरे चरण के लिए थम गया भोंपू का शोर 

तीसरे चरण के लिए थम गया भोंपू का शोर उत्तर प्रदेश विधानसभा (फोटो साभार: गूगल)

लखनऊ। तीसरे चरण में 19 फरवरी को होने वाले मतदान को लेकर शुक्रवार शाम पांच बजे चुनाव प्रचार थम गया। इस चरण में लखनऊ जिलों की 9 विधानसभा सीटों पर भी वोट डाले जाएंगे। चुनाव प्रचार के अंतिम दिन मतदाताओं को रिझाने के लिए विभिन्न पार्टियों के उम्मीदवारों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी। अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए रोड शो, रैली और पदयात्रा पर जोर रहा।

लखनऊ मध्य विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी उम्मीदवार बृजेश पाठक ने अपने रथ पर सवार होकर अपने हजारों समर्थकों के साथ मध्य विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न मोहल्लों, कालोनियों और बाजारों में रोड शो करते हुए जनता से वोट मांगा। उनके समर्थन में मोटरसाइकिल जुलूस और नुक्कड़ सभाएं भी की गई। जनता से वोट मांगते हुए बीजेपी उम्मीदवार ने कहा ‘’मध्य विधानसभा क्षेत्र की जनता मुझे इस बार सेवा का अवसर दे, जनता की उम्मीदों पर खरा उतरूंगा।

इसी सीट से सपा उम्मीदवार और अखिलेश सरकार में मंत्री रविदास मेहरोत्रा ने अपने समर्थकों के साथ कभी पैदल तो कभी गाड़ी पर सवार होकर सुबह से लेकर चुनाव प्रचार खत्म होने तक व्यापक जनसंपर्क किया। दारूलसफा से लेकर डालीबाग तक उन्होंने पैदल मार्च करते हुए जनता से जिताने की अपील की। उन्होंने कहा कि ‘’अपने पांच साल के कार्यकाल में जनता के लिए 24 घंटे उपलब्ध रहा। विकास के अनगिनत काम किए हैं। इस बार विधायक बनकर क्षेत्र में विकास के अधूरे कामों का पूरा करूंगा। क्षेत्र के विकास के लिए कई योजनाएं हैं जिसे लागू करूंगा।"

चुनाव प्रचार के अंतिम दिन लखनऊ उत्तरी विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी प्रत्याशी डा़ नीरज बोरा ने अपने समर्थकों के साथ डोर टू डोर जाकर प्रचार किया। लखनऊ उत्तरी सीट से सपा उम्मीदवार अभिषेक मिश्रा ने भी चुनाव प्रचार के आखिरी समय तक खूब जोर लगाया। अपने विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न क्षेत्रों में दर्जनों नुक्कड़ सभाओं को संबोधित किया। इस सीट से बसपा के उम्मीदवार अजय श्रीवास्तव ने भी प्रचार के अंतिम दिन रोड शो और पैदल मार्च करके जनसंपर्क किया। बीकेटी विधानसभा क्षेत्र से बसपा उम्मीदवार नकुल दूबे, सपा के गोमती यादव और बीजेपी के अविनाश त्रिवेदी भी रैलियां और चुनावी जनसभाएं की।

Share it
Top