अंतिम चरण का मतदान जारी, दो बजे तक हुआ 41 फीसदी मतदान

अंतिम चरण का मतदान जारी, दो बजे तक हुआ 41 फीसदी मतदानउत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के सातवें व अंतिम चरण में 40 सीटों के लिए सात जिलों में मतदान सुबह सात बजे से जारी है। फोटो क्रेडिट All India Radio News‏

लखनऊ (भाषा)। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के सातवें और अंतिम चरण के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी समेत सात जिलों की 40 सीटों पर आज अपराह्न दो बजे तक औसतन करीब 41 प्रतिशत मतदान हुआ।

निर्वाचन आयोग के सूत्रों के अनुसार वाराणसी, गाजीपुर, जौनपुर, चंदौली, मिर्जापुर, भदोही और सोनभद्र की 40 सीटों पर अपराह्न दो बजे तक आमतौर पर शांतिपूर्ण ढंग से लगभग 41 प्रतिशत औसत मतदान हुआ। वाराणसी में दो बजे तक 37.88 प्रतिशत जबकि नक्सल प्रभावित मिर्जापुर जिले में 42 50 प्रतिशत वोट पड़े।

चुनाव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

जौनपुर में मतदाताओं को वाहनों से मतदान बूथ तक ले जाने के आरोप में जफराबाद सीट से भाजपा प्रत्याशी हरेन्द्र प्रताप सिंह तथा चार अन्य लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। हालांकि सिंह ने इस आरोप को गलत बताया है। नक्सल प्रभावित दुद्धी, राबर्टसगंज और चकिया सीटों पर मतदान सुबह सात बजे से शाम चार बजे तक जबकि अन्य सभी मतदान केंद्रों पर सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक मतदान होगा।

वाराणसी संसदीय क्षेत्र के तहत आने वाली सीटों के अलावा नक्सल प्रभावित जिलों सोनभद्र, मिर्जापुर और चंदौली पर सबकी निगाहें टिकी हैं। वर्ष 2012 में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में इन 40 सीटों में से 23 पर सपा ने जीत दर्ज की थी जबकि बसपा को पांच, भाजपा को चार, कांग्रेस को तीन और अन्य को पांच सीटें मिली थीं। आज मतदान के दौर से गुजर रहे सातों जिलों में कडे सुरक्षा इंतजाम किये गये हैं। मतगणना 11 मार्च को होगी।

सातवें चरण के चुनाव में 64.76 लाख महिलाओं समेत लगभग 41 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे। इसके लिये कुल 14,458 मतदान बूथ बनाये गये हैं। भाजपा 32 सीटों पर चुनाव लड़ रही है जबकि चार चार सीटें इसने अपने सहयोगी अपना दल और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी को दी हैं।

बसपा ने सभी सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं। सपा 31 सीटों पर है तो उसकी गठबंधन सहयोगी कांग्रेस शेष नौ सीटों पर चुनाव लड़ रही है। सातवें चरण में कुल 535 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। इनमें बसपा के 40, भाजपा के 32, सपा के 31, कांग्रेस के नौ, रालोद के 21 और राकांपा के पांच उम्मीदवार शामिल हैं।

सबसे अधिक 24 उम्मीदवार वाराणसी कैण्ट सीट पर हैं तो सबसे कम छह उम्मीदवार केराकत (अनुसूचित जाति) सीट पर हैं। जिन दिग्गजों की किस्मत इस चरण में दांव पर लगी है, उनमें कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश, पारसनाथ यादव, अजय राय, पूर्व सांसद धनंजय सिंह, बाहुबली मुख्तार अंसारी के भाई सिगबतुल्लाह अंसारी और जेल में बंद माफिया मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह शामिल हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top