गाँव, गंगा और गाय के नाम पर भाजपा लड़ेगी चुनाव

गाँव, गंगा और गाय के नाम पर भाजपा लड़ेगी चुनावउत्तर प्रदेश का विधान भवन।

लखनऊ। गाँव, गाय और गंगा प्रदूषण मुक्ति जैसे मुद्दों के साथ भाजपा समाज के अंतिम तबके के भले का संकल्प लेता हुए शनिवार को दोपहर में अपना घोषणापत्र जारी करेगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह इस मौके पर मौजूद रहेंगे। भाजपा के इस घोषणापत्र में अलग अलग वर्ग के लिए अलग से विजन प्रस्तुत किया जाएगा।

बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी ने बताया कि इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में दोपहर करीब 3:00 बजे से घोषणापत्र जारी करने का समारोह का आयोजित किया जाएगा। भाजपा अपने चुनावी घोषणापत्र में विकास और कानून एवं व्यवस्था की स्थिति को बेहतर बनाने को केंद्रीय विषय बना सकती है। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को लखनऊ में घोषणापत्र जारी करेंगे। घोषणापत्र जारी करते समय लखनऊ में शाह के साथ भाजपा के कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहेंगे। घोषणापत्र में सुशासन, राज्य में भ्रष्टचार मुक्त सरकार प्रदान करना सुनिश्चित करने जैसे मुद्दों को प्राथमिकता दी जा सकती है। घोषणापत्र में पार्टी शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों को रेखांकित करेगी। भाजपा उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ेगी और पार्टी कुछ रोजगार सृजन करने वाले कार्यक्रमों की घोषणा भी कर सकती है। राज्य में चुनाव में भाजपा गैर यादव अन्य पिछड़ा वर्ग और गैर जाटव अनुसूचित जाति मतदाताओं पर ध्यान केंद्रित कर रही है। पार्टी इन दो वर्गों को ध्यान में रखते हुए घोषणापत्र में कुछ विशिष्ट योजनाओं का उल्लेख कर सकती है। उल्लेखनीय है कि भाजपा ने अब तक 371 उम्मीदवारों की सूची जारी की है जिसमें से 80 दलित और करीब 130 विभिन्न पिछड़ी जाति के उम्मीदवार हैं।

गाँवों और किसानों के लिए बड़ी घोषणाएं होंगी

भाजपा के घोषणापत्र में किसानों और गाँवों के लिए बड़ी घोषणाएं होने की संभावना है। जिसमें खाद, बीज, सिंचाई, बिजली, ग्रामीण बैंक, ऋण और अन्य जरूरी मुद्दों के संबंध में भाजपा का विजन सामने रखा जाएगा। इसके साथ ही गंगा और उत्तर प्रदेश की अन्य नदियों को प्रदूषणमुक्त रखने का प्रबंध भी घोषणापत्र में होगा। गो संरक्षण के माध्यम से किस तरह से कृषि विकास संभव है, बीजेपी का घोषणापत्र इसको भी सामने रखेगा।

Share it
Top