यूपी चुनावः 9 मंत्रियों के सामने सीट बचाने की चुनौती

यूपी चुनावः 9 मंत्रियों के सामने सीट बचाने की चुनौतीउत्तर प्रदेश का विधान भवन।

फैज़ाबाद। अखिलेश यादव सरकार के 8 मंत्री शनिवार को अपने-अपने विधानसभा में ताबड़तोड़ प्रचार करते नज़र आए। पाँचवे चरण में सोमवार को जिन 51 सीटों पे चुनाव होगा उसमे मंत्री पहली बार अयोध्या से चुनाव जीते तेज़ नारायण पांडेय उर्फ़ पवन पांडेय के सामने फिर से चुनाव जीतने की कड़ी चुनौती है। उनके साथ ही मंत्री अवधेश प्रसाद, राममूर्ति वर्मा, गायत्री प्रजापति, विनोद कुमार उर्फ पंडित सिंह, शंखलाल मांझी, यासर शाह और रामकरण आर्या की प्रतिष्ठा दांव पर है।

चुनाव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

चुनाव का यह वह चरण है जिसमे यूपी की राजनीति को कई दशक से प्रभावित करने वाले फैज़ाबाद और अयोध्या शामिल है। इस चरण में बसपा सुप्रीमो मायावती, राहुल गांधी और अखिलेश यादव का भी बहुत कुछ दांव पर है। अम्बेडकर नगर वही सीट है जिसका मायावती ने कई बार प्रतिनिधित्व किया। अमेठी से राहुल गांधी सांसद हैं, जबकि पिछले विधानसभा में यहाँ की 51 में 37 सीटें जीतकर विरोधियों का सफाया करने वाले सपा को अपनी सीटों को बचाना। साल 2012 में यहाँ पे 5-5 सीटें जीतकर बीजेपी और कांग्रेस बराबरी पे थे जबकि 3 सीट बसपा और 2 सीट पीस पार्टी को मिलेगी।

इस चरण में महागठबंधन बनाकर चुनाव लड़ रहे तीन छोटे दलों (डॉ अयूब की पीस पार्टी, डॉ संजय निषाद की निषाद पार्टी और अपना दाल कृष्णा पटेल) गुट का भी इम्तहान होगा। जहाँ पे चुनाव है उसमें इन दलों का प्रभाव है।

Share it
Top