उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में पहले चरण का मतदान खत्म, 73 सीटों पर 840 प्रत्याशियों का भाग्य ईवीएम में कैद

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में पहले चरण का मतदान खत्म, 73 सीटों पर 840 प्रत्याशियों का भाग्य ईवीएम में कैदमुजफ्फरनगर में मतदान।

लखनऊ (भाषा)। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में पहले चरण के लिए 73 सीटों पर मतदान खत्म हो गया है। यहां पर 15 जिलों में 840 प्रत्याशी मैदान में थे, जिनके भाग्य ईवीएम में कैद हो गए हैं। मतदान आमतौर पर शांतिपूर्ण रहा है। और कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं मिली है।

पहले चरण में शामली, मुजफ्फरनगर, बागपत, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, हापुड, बुलन्दशहर, अलीगढ़, मथुरा, हाथरस, आगरा, फिरोजाबाद, एटा और कासगंज जिलों की 73 सीटों पर मतदान हुआष । सुबह ठंड होने की वजह से मतदान की गति बिल्कुल शुरु में कुछ धीमी रही, लेकिन जल्द ही इसने रफ्तार पकड ली। गुलाबी ठंड में मतदान केंद्रों के बाहर लम्बी कतारें देखी जा रही हैं। मतदान शाम पांच बजे तक चलेगा। आयोग के अनुसार जो भी मतदाता शाम पांच बजे तक मतदान केंद्र में उपस्थित हो जाएंगे, उन्हें वोट डालने दिया जाएगा।

इस चरण के चुनाव में एक करोड़ 17 लाख महिलाओं समेत कुल दो करोड 60 लाख 17 हजार 81 मतदाता कुल 839 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला कर सकेंगे। मतदान के लिये 14 हजार 514 केंद्र तथा 26 हजार 823 मतदान स्थल बनाये गये हैं।

इस चरण में 5140 मतदान केंद्रों को संवेदनशील माना गया है। स्वतंत्र और निष्पक्ष मतदान के लिये 826 कम्पनी केंद्रीय बल तथा पुलिस के 8011 उपनिरीक्षक, 4823 मुख्य आरक्षी तथा 60 हजार 289 आरक्षियों की तैनाती की गयी है। इसके अलावा 2268 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 285 जोनल मजिस्ट्रेट तथा 429 स्टैटिक मजिस्ट्रेट भी तैनात किये गये हैं।

पहले चरण में मतदाताओं की संख्या के लिहाज से गाजियाबाद का साहिबाबाद सबसे बड़ा विधानसभा क्षेत्र है, वहीं एटा का जलेसर सबसे छोटा क्षेत्र है। आगरा दक्षिण सीट से सबसे ज्यादा 26 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं, वहीं हस्तिनापुर से सबसे कम छह प्रत्याशी मैदान में हैं।

Share it
Share it
Share it
Top