यूपी चुनाव: बीते चुनाव की तुलना में इस बार ज्यादा हो रहा मतदान

यूपी चुनाव: बीते चुनाव की तुलना में इस बार ज्यादा हो रहा मतदानलखनऊ में तीसरे चरण में महिलाओं ने बढ़-चढ़ कर लिया हिस्सा। फोटो- महेंद्र पाडेंय

लखनऊ। पिछले चुनाव की तुलना में इस बार के यूपी विधानसभा के चुनाव के तीनों चरणों में वोटों के प्रतिशत में बढ़ोत्तरी हुई है। रविवार को मतदान का तीसरा चरण छिटपुट घटनाओं के बीच संपन्न हुआ।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में 12 जिले की 69 सीटों के लिये रविवार को 61.16 प्रतिशत मतदान हुआ। जबकि वर्ष 2012 के तीसरे चरण में 57 फीसदी मतदाताओं ने अपने मतों का प्रयोग किया था। बीते चुनाव के दूसरे चरण में करीब 64 फीसदी मतदान हुआ था जबकि इस चुनाव के दूसरे चरण में 65.5 फीसदी मतों का प्रयोग मतदाताओं ने किया है। पहले चरण में वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में 61.4 फीसदी मत पड़े थे जबकि इस बार पहले चरण में 64.30 प्रतिशत मतदान हुआ।

मतदान की खुशी

रविवार को तीसरे चरण में 105 महिला उम्मीदवारों समेत कुल 826 प्रत्याशियों का चुनावी भाग्य इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों में बंद हो गया। मुख्य निर्वाचन अधिकारी टी. वेंकटेश ने बताया कि तीसरे चरण में फर्रुखाबाद, हरदोई, कन्नौज, मैनपुरी, इटावा, औरैया, कानपुर देहात, कानपुर, उन्नाव, लखनऊ, बाराबंकी और सीतापुर जिले की 69 सीटों पर शाम पांच बजे तक 61.16 प्रतिशत वोट पडे़। मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ और शाम पांच बजे तक मतदान केंद्र में आमद दर्ज कराने वाले सभी मतदाताओं को वोट का मौका दिया गया है, लिहाजा मत प्रतिशत बढ़ने की सम्भावना है।

लखनऊ में चुनाव।

वर्ष 2012 में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में सपा ने इन 69 में से 55 सीटें जीती थीं। वहीं बसपा को छह और भाजपा को पांच सीटें मिली थीं, जबकि कांग्रेस के खाते में दो सीटें और एक सीट निर्दलीय प्रत्याशी को हासिल हुई थी। इसके पूर्व, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, उनके परिवार वालों तथा बसपा सुप्रीमो मायावती ने लखनउ में मतदान किया, जबकि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनके पिता मुलायम सिंह यादव एवं परिवार के अन्य लोगों ने इटावा के सैफई में मतदान किया।

शिवपाल के काफिले पर पथराव

इटावा से प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक जसवन्तनगर विधानसभा क्षेत्र के कतैयापुरा में मतदाताओं को धमकाये जाने की सूचना पर वहां पहुंचे सपा प्रत्याशी शिवपाल सिंह यादव के काफिले पर पथराव किया गया। इसके अलावा सपा की जसवन्तनगर इकाई के नगर अध्यक्ष राहुल गुप्ता तथा उनके साथियों की प्राथमिक विद्यालय जसवन्तनगर स्थित मतदान केंद्र के पास बैठने को लेकर पुलिस से झड़प हो गयी। इस दौरान पुलिस ने उन पर कथित रुप से लाठीचार्ज किया। शिवपाल और प्रशासनिक अधिकारियों के बीच वार्ता के बाद स्थिति सामान्य हो गयी। बाद में, शिवपाल ने संवाददाताओं से कहा कि पुलिस और प्रशासन किसी के दबाव में काम कर रहा है।

इनकी किस्मत ईवीएम में बंद

तीसरे चरण में जो प्रमुख उम्मीदवार मैदान में थे, उनमें जसवन्तनगर सीट से मुलायम के भाई शिवपाल सिंह यादव, लखनऊ छावनी सीट से मुलायम की बहू अपर्णा और मौजूदा विधायक रीता बहुगुणा जोशी, मुख्यमंत्री अखिलेश के चचेरे भाई अनुराग यादव, प्रदेश के कैबिनेट मंत्री अरविन्द सिंह गोप, राज्यमंत्री फरीद महफूज किदवई, राज्यमंत्री राजीव कुमार सिंह, राज्यमंत्री नितिन अग्रवाल, बसपा छोड़कर भाजपा में गये बृजेश पाठक, कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य पीएल पुनिया के बेटे तनुज पुनिया शामिल हैं।

मैंने भी डाला वोट।

एक नजर बाकी चरणों पर

प्रदेश विधानसभा के बाकी चार चरणों का चुनाव 23 और 27 फरवरी तथा चार और आठ मार्च को होगा। मतों की गिनती 11 मार्च को होगी।

Share it
Top