पंचायत निधि में कमीशन खत्म करने के मुद्दे पर एकजुट हुए प्रधान

पंचायत निधि में कमीशन खत्म करने के मुद्दे पर एकजुट हुए प्रधानप्रधान संघ अध्यक्ष मलिहाबाद

लखनऊ,पंचायत निधि में कमीशन खोरी अब कोई बड़ा मुद्दा नही है ,पंचायत निधि में काम होंगे तो अधिकारीयों ,कर्मचारियों को कमीशन देना पड़ेगा,ये बात सारे प्रधान जानते है और उसी हिसाब से पंचायत में कार्य कराते है ताकि हिसाब किताब बैलेंस में रहे ,हालांकि इस मुद्दे पर खुलकर कोई प्रधान बोलना नहीं चाहता ,लेकिन बदलते समय में प्रधान भी कमीशन बाजी के मुद्दे को लेकर मुखर हो रहे है।

उत्तर प्रदेश के राजधानी लखनऊ के मलीहाबाद ब्लाक में आज प्रधान संघ की बैठक में प्रधानों ने पंचायत निधि में होने वाली कमीशनबाजी को मुद्दा बनाया तो हमेशा आमने–सामने रहने वाले मलिहाबाद ब्लाक के दोनों प्रधानसंघ गुट इस मुद्दे पर एकजुट हो गये और हंगामा करना शुरू कर दिया व् इस सन्दर्भ में खंड विकास अधिकारी को ज्ञापन भी दिया जिस पर खंड विकास अधिकारी अरुण सिंह ने प्रधानों को ये कहते हुए शांत कराया की अगर विकास खंड में कोई भी सरकारी कर्मचारी या अधिकारी कमीशन की मांग करता है तो प्रधान अवगत कराये ,शिकायत पर दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी।

मलिहाबाद ब्लाक में प्रधान जमशेद अली और प्रधान सरोज यादव दोनों ही मलिहाबाद प्रधान संघ अध्यक्ष होने की दावेदारी लम्बे समय से करते आ रहे है, लेकिन आज मलिहाबाद विकास खंड में बैठक के दौरान दोनों प्रधान पंचायत व प्रधानो के मुद्दे को लेकर एक हो गये और जमशेद अली ने सरोज यादव का समर्थन कर दिया।
प्रधान संघ अध्यक्ष सरोज यादव की अध्यक्षता मे विकास खण्ड के सभागार मे आयोजित बैठक मे प्रधानों ने अपनी समस्याएं उठायीं और खंड विकास अधिकारी को दिए गये ज्ञापन मे मांग की गयी कि राज्यवित्त व 14वे वित्त आयोग मे मनरेगा की डपटेलिंग न की जाये। आदर्श ग्राम पंचायतों के लिए स्वीकृत धन विकास कार्य के लिए ग्राम पंचायत को उपलब्ध कराया जाये,ग्राम पंचायत निधि से होने वाले कार्यों पर कमीशनबाजी की प्रथा समाप्त की जाये।

प्रधान संघ अध्यक्ष मलिहाबाद सरोज यादव ने गाँव कनेक्शन को फोन पर बताया की ये अंदर की खबर थी की ब्लाक स्तर से पंचायत सचिवो पर पंचायत निधि में कमीशन के लिए दबाब बनाया जा रहा था और पंचायत सचिव प्रधानों से कह रहे थे ,पता चलने पर सभी प्रधानो ने एक साथ विरोध किया व् कमीशन खोरी और अन्य समस्याओ को लेकर खंडविकास अधिकारी ज्ञापन दिया गया है।

Share it
Top