मोदी के योगासन में खर्च होंगे 21 करोड़

मोदी के योगासन में खर्च होंगे 21 करोड़इस आयोजन को कामयाब बनाने के लिए केंद्रीय आयुष मंत्रालय करीब 21 करोड़ रुपये का खर्च करेगा

लखनऊ। इस बार अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस लखनऊवालों के लिए खास होने वाला है। पिछले साल दिल्ली में धूमधाम से आयोजन के बाद इस बार लखनऊ के रमाबाई अंबेडकर मैदान में पीएम मोदी योग में भाग लेंगे। इसके सफल आयोजन के लिए अच्छी खासी रकम भी खर्च दी जा रही है। बताया जा रहा है कि 21 जून को विश्व योग दिवस के मौके पर राजधानी में होने वाले आयोजन पर 21 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

रमाबाई रैली स्थल पर होने वाले इस आयोजन में नरेंद्र मोदी के साथ में 60 हजार लोग एक साथ योग करेंगे। इस आयोजन को कामयाब बनाने के लिए केंद्रीय आयुष मंत्रालय करीब 21 करोड़ रुपये का खर्च करेगा जिसके लिए नोडल एजेंसी लखनऊ विकास प्राधिकरण होगी।

एलडीए के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि प्रचार प्रसार से लेकर अन्य खर्चों पर 21 करोड़ का खर्च आएगा। यहां भाग लेने वाले सभी प्रतिभागियों को मैट, पानी की बोतल और टीशर्ट भी उपलब्ध करवाई जाएगी।

ये भी पढ़ें: मोदी के साथ लखनऊ में 55 हजार लोग करेंगे योग

सभी तैयार हो रहे योग दिवस के लिए

योग दिवस में एनएसएस से 8000, सीमा सुरक्षा बल से 216, शिक्षा विभाग से 13321, पीएसी से 100, पुलिस से 200, सेना से 1000, सीआरपीएफ से 500, देव संस्कृति संस्थान से 2000 और लखनऊ विश्वविद्यालय से 250, स्पोर्ट्स कालेज से 200 और ब्रह्मकुमारी संस्थान से 2319 प्रतिभागी प्रतिभाग करेंगे। श्री श्री रविशंकर महाराज संस्थान से 6000, पतंजलि संस्थान से 10000, मोक्षायतन संस्थान से 2000, ग्राम्य विकास विभाग से 5000, राजकीय आयुर्वेदिक कालेज से 334, एनसीसी से 8000, ईशा फाउण्डेशन से 500, नागरिक सुरक्षा विभाग से 500, भारतीय योग संस्थान से 500, आरोग्य भारती से 100 और नेहरु युवा केन्द्र से 1010 प्रतिभागी भी योग दिवस कार्यक्रम में भाग लेंगे। इसके अलावा शकुन्तला मिश्रा विश्वविद्यालय से 100 दिव्यांग छात्र भी योग में शामिल होंगे।

इस बारे में आयुष राज्य मंत्री धर्मसिंह सैनी बताते हैं, ‘अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर 21 जून योग कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए श्री श्री संस्थान लखनऊ, पतंजलि एवं भारत स्वाभिमान संस्था के द्वारा लखनऊ के विभिन्न 43 स्थानों पर नियमित योग की कक्षाएं संचालित की जा रही हैं।’ वह आगे कहते हैं, ‘यहां 304 प्रशिक्षकों द्वारा योग का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। ये कक्षाएं लखनऊ के दक्षिणी क्षेत्र में सुबह पांच बजे से साढ़े छह बजे तक व दूसरे क्षेत्रों में सुबह पांच से सात बजे तक चलाई जा रही हैं।’

Share it
Top