लखनऊ की सड़कों पर आलू फेंकने के मामले में पांच पुलिसकर्मी निलंबित

लखनऊ की सड़कों पर आलू फेंकने के मामले में पांच पुलिसकर्मी निलंबितइस तरह फेंका गया था आलू

लखनऊ। शुक्रवार की रात से किसानों ने यूपी विधानसभा, राजभवन और सीएम आवास के बाहर से लेकर 1090 चौराहे तक किसानों ने रातभर आलू फेंककर सरकार के खिलाफ नाराजगी जाहिर की थी। शनिवार सुबह-सुबह सड़क पर इतनी ज्यादा मात्रा में आलू देखकर पुलिस व प्रशासन महकमे में हड़कंप मच गया था।

कार्रवाई के डर से अधिकारियों ने खुद से आलू उठवाकर सकड़ साफ करवाईं। मामले को तूल पकड़ता देख एसएसपी दीपक कुमार ने एक दारोगा सहित पांच पुलिसकर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

ये भी पढ़ें- विरोध का अनूठा तरीका : किसानों ने लखनऊ की सड़कों पर फैलाया आलू

एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि विधान भवन से लेकर 1090 चौराहे पर जगह-जगह सड़क पर आलू बिखरे पड़े होने की बात सामने आई थी। इस घटना को कुछ शरारती तत्वों द्वारा अंजाम दिया गया। घटना के मामले में 5 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। एसएसपी ने बताया कि किसान यूनियन के स्थानीय नेताओं से फोन पर संपर्क किया गया तो इस घटना में उनकी संलिप्तता नहीं पाई गई है उन्होंने घटना में शामिल होने से इंकार कर दिया है।

रात भर सोती रही पुलिस

एसएसपी दीपक कुमार ने कहा कि आलू फेंकने वालों किसानों और वाहनों की पहचान हो गई हैं। उन्होंने कहा कि उचित धाराओं के तहत इन लोगों के खिलाफ केस दर्ज करके कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल सरकार के रवैये से आलू किसान काफी नाराज हैं और लगातार आलू की कीमतों में वृद्धि की मांग कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें- सरकार का प्लान : यूपी के किसानों को घाटे से बचाने के लिए इकट्ठा किया जाएगा फंड

Share it
Share it
Share it
Top