अपने पहले इंटरव्यू में सीएम योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर निर्माण पर दिया बड़ा बयान

अपने पहले इंटरव्यू में सीएम योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर निर्माण पर दिया बड़ा बयानमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में सरकार बनाने के बाद पहली बार मुख्यमंत्री नेअपना पहला इंटरव्यू दिया। आरएसएस के मुखपत्र 'पांञ्चजन्य' को दिए गए इंटरव्यू में योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि राम जन्मभूमि विवाद को बातचीत से ही सुलझाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हैं। मैत्रीपूर्ण माहाैल से ही हल निकलेगा। इसके अलावा अन्य कई मुद्दों पर भी मुख्यमंत्री ने अपनी बेबाक राय रखी।

बूचड़खानों पर कार्रवाई को सही बताया

इन दिनों देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में अवैध बूचड़खानों को बंद करने पर योगी सरकार का हंटर ऐसे चला कि इसकी गूंज कई राज्यों में सुनाई दी। यूपी की तर्ज पर झारखंड, बिहार और राजस्थान तक इसकी आग पहुंची और वहां पर भी कई जगह अवैध बूचड़खाने बंद किए गए। योगी से जब इसके बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जो बूचड़खानें अवैध हैं वो अवैध हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मैं किसी के स्वाद पर रोक नहीं लगा सकता लेकिन कोई शाकाहारी बनेगा तो ज्यादा स्वस्थ रहेगा।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

अपराधियों से सख्ती से निपटेंगे


सपा के कार्यकाल में प्रदेश में हुए दंगों को लेकर भी उन्होंने कहा कि तब सत्ता गलत हाथों में थी। दंगाइयों को संरक्षण दिया जाता था, लेकिन हमने स्पष्ट कहा है कि अपराधी कोई भी हो उससे सख्ती से निपटा जाएगा। जो भेदभाव करेगा वो कार्रवाई के लिए तैयार रहे। योगी ने कहा कि देश के अंदर बहुत से लोग ऐसे हैं जिन्हें भगवा रंग अच्छा नहीं लगता। उन्हें भगवा रंग से परहेज है.।अभी तक जो लाग सेकुलरिज्म के नाम पर, तुष्टीकरण के नाम पर देश की परंपरा और संस्कृति को अपमानित कर रहे थे, अब उन्हें अपने अस्तित्व पर खतरा दिखाई दे रहा है। इसलिए मेरे बारे में भ्रांतियां पैदा करने की कोशिश की जा रही है।

जल्द खुलेगी बंद चीनी मिले

गन्ने की पैदावार में यूपी देश में दूसरे नंबर पर आता है जिसके चलते वहां पर कई चीनी मिले है। लेकिन अभी यूपी में बीते काफी दिनों से कई चीनी मिले बंद पड़ी है। हालांकि कई सरकार आई और गई लेकिन इन चीनी मिलों पर पड़े ताले को हटाने में नाकाम रही। वहीं जब इन बंद पड़ी चीनी मिलों के बारे में सीएम योगी से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि आने वाले 6 महीने में 5 से 6 चीनी मिलों को जल्द ही शुरुआत की जाएगी।

बुंदेलखंड के विकास पर जोर

योगी ने कहा कि पूरे प्रदेश की आबादी को ध्यान में रखकर योजनाएं बन रही हैं। पूर्वी उत्तर प्रदेश और बुंदेलखंड पर खास ध्यान देंगे। बुंदेलखंड की समस्या का समाधान निकालने में लगे हुए हैं। समीक्षा का मेरा पहला दौरा बुंदेलखंड से ही शुरू होने जा रहा है। उन्होंने कहा कि बुदेलखंड के खेतों में पानी पहुंचाने के लिए कार्ययोजना तैयार की जा रही है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top