उत्तर प्रदेश के दो बड़े रेलवे स्टेशन की होगी नीलामी, 150 और 200 करोड़ से होगी शुरुआत

उत्तर प्रदेश के दो बड़े रेलवे स्टेशन की होगी नीलामी, 150 और 200 करोड़ से होगी शुरुआतकानपुर रेलवे स्टेशन की 200 तो इलाहाबाद की 150 करोड़ में होगी नीलामी।

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश सरकार ने अपने सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी) परियोजनाओं के तहत देश के दो बड़े रेलवे स्टेशनों को नीलामी करने की योजना बनाई है।

इस नीलामी के बाद इन स्टेशनों का पुनर्विकास भी होगा। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक ये नीलामी ऑनलाइन होगी और इसकी तारीख 28 जून तय की गई है। इसमें उत्तर प्रदेश के दो अहम और बड़े स्टेशन कानपुर जंक्शन और इलाहाबाद जंक्शन की बोली लगाई जाएगी। इसके लिए जो भी कंपनियां इच्छुक हैं वो रेलवे वेबसाइट पर लॉग ऑन कर सकते हैं और जंक्शन के लिए बोली लगा सकते हैं।

कानपुर जंक्शन के लिए नीलामी का आधार मूल्य 200 करोड़ रुपए तय किया गया है और इलाहाबाद का 150 करोड़ रुपए तय किया गया है। 28 जून को होने वाली इस नीलामी के परिणाम 30 जून को घोषित किए जाएंगे। इससे पहले भी एक रिपोर्ट में कहा गया था कि सरकार 25 प्रमुख रेलवे स्टेशनों को फिर से शुरू करना चाहती है। इस लिस्ट में मुंबई, पुणे, ठाणे, विशाखापट्टनम, हावड़ा, इलाहाबाद, कामख्या, फरीदाबाद, जम्मू तवी, बैंगलोर छावनी, भोपाल, मुंबई सेंट्रल (मुख्य), बोरिवली और इंदौर में बेंगलुरु, लोकमान्य तिलक (टी) शामिल हैं।

25 सबसे प्रमुख रेलवे स्टेशनों का होगा पुनर्निर्माण

रेलवे मंत्री सुरेश प्रभु ने पिछले महीने कहा था कि भारत अपने सबसे बड़े सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी) परियोजनाओं को नीलामी करने की योजना बना रहा है, जो 30,000 करोड़ रुपए के न्यूनतम निवेश पर देश के 25 सबसे प्रमुख रेलवे स्टेशनों के पुनर्निर्माण पर जोर देता है। पुनर्विकास के तहत ही नीलामी में स्टेशन हासिल करने वालों को स्टेशनों, होटल, मॉल, मल्टीप्लेक्स और अन्य भवनों पर बुनियादी ढांचे को सुधारने की अनुमति दी जाएगी।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top