लखनऊ में ऑटो चालक ने दुष्कर्म न कर पाने पर लड़की को बीच सड़क पर फेंका, मौत  

लखनऊ में ऑटो चालक ने दुष्कर्म न कर पाने पर लड़की को बीच सड़क पर फेंका, मौत  मडियांव कोतवाली 

लखनऊ। यूपी में योगी सरकार महिलाओं की सुरक्षा के लिए कितने भी दावे कर ले, लेकिन यहाँ महिलाएं खुद को अब भी असुरक्षित महसूस कर रही हैं। इसका ताजा उदाहरण मड़ियांव का है, जहां एक युवती शुक्रवार रात घर जाने के लिए ऑटो में बैठी ही थी कि ऑटो चालक ने उसका अपहरण कर चलती ऑटो में दुष्कर्म का प्रयास किया। अपने इरादों में नाकाम होने पर आरोपी चालक ने चलती ऑटो से युवती को सड़क पर फेंक दिया, और वहां से ऑटो लेकर भाग गया।

ये भी पढ़ें- क्या आप जानते हैं भारतीय रेलवे के गार्ड भोलू के बारे में, हर रेल यात्रा में रहता है आपके साथ

सड़क पर खून से लथपथ युवती को देख राहगीरों ने घटना की सूचना डायल 100 को दी। जबकि सूचना के करीब आध घंटा देरी से पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। युवती को गंभीर हालत में ट्रॉमा में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी शनिवार सुबह मौत हो गई। वहीं आरोपी ऑटो चालक सोनू फरार है, लेकिन पुलिस ने आरोपी के भाई सर्वेश को बीकेटी से हिरासत में ले लिया है। साथ ही घटना में इस्तेमाल ऑटो पुलिस के कब्जे में है।

ये भी पढ़ें- उपमुख्यमंत्री के क्षेत्र की सड़कें भी बदहाल, लोगों ने लगाई गुहार

आरती (बदला हुआ नाम) लखनऊ के कालीचरण डिग्री कॉलेज में बीए प्रथम वर्ष की छात्रा थी। जबकि घर की हालत ठीक न होने के चलते वह नौकरी कर रही थी। आरती अपने परिवार के साथ दुबग्गा थाना क्षेत्र में आवास विकास की आम्रपाली योजना में रहती थी। पीड़ित परिवार वालों के मुताबिक, शुक्रवार को वह किसी काम से राजाजीपुरम गई थी। देर रात वह ऑटो (यूपी 34 टी-4410) में बैठी थी। इसकी सूचना आरती ने अपने घरवालों को फोन से पहले ही दे दी थी, जिसके चलते उसके घरवाले दुबग्गा चौराहे पर अपनी बेटी का इंतजार कर रहे थे। दुबग्गा पहुंचते ही युवती ने टेम्पो रोकने के लिए कहा तो टेम्पो चालक ने रफ्तार और बढ़ा दी। युवती ने अपनी मां को देखकर शोर मचाया, लेकिन ऑटो चालक सोनू ने ऑटो नहीं रोका।

पुलिस को दिए बयान में मौत से पहले युवती ने बताया कि, ऑटो चालक ने दूर जाकर फोन कर अन्य साथियों को बुला लिया और उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास किया। युवती के विरोध करने पर आरोपियों ने उसकी बुरी तरह पिटाई कर दी। युवती के शोर मचाने पर आरोपियों ने उसे ऑटो से फेंकना ही मुनासिब समझा। आरोपी ऑटो ड्राईवर आरती को आईआईएम रोड स्थित डेंटल कालेज के पास चलती ऑटो से फेंककर भाग गया।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top